• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • OMG: हरदोई के 200 साल पुराने मंदिर में नीम के पेड़ से प्रकट हुईं देवी! ग्रामीणों का जमघट

OMG: हरदोई के 200 साल पुराने मंदिर में नीम के पेड़ से प्रकट हुईं देवी! ग्रामीणों का जमघट

हरदोई के मंदिर में नीम पेड़ों की पूजा करती महिलाएं, जहां देवी मूर्ति के प्रकट होने की बात कही जा रही है. (इनसेट) जिसे लोग बता रहे हैं देवी की मूर्ति.

हरदोई के मंदिर में नीम पेड़ों की पूजा करती महिलाएं, जहां देवी मूर्ति के प्रकट होने की बात कही जा रही है. (इनसेट) जिसे लोग बता रहे हैं देवी की मूर्ति.

Miracle or Science : सुशीला देवी के मुताबिक, पहले उन्हें यह लगा कि कुकुरमुत्ता या फंगस जैसी कोई चीज उग आई है. जब उन्होंने उसे उखाड़ने की कोशिश की तो बहुत कोशिश के बाद भी वह उखड़ा नहीं. इसके बाद सुशीला ने उसे अच्छे तरीके से धोया, तो वहां उन्हें मां भगवती की मूर्ति दिखी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

हरदोई. हरदोई में एक अजूबा हुआ है, जिसकी चर्चा सबकी जबान पर है और सब चकित हैं. यहां गांव के बाहर एक मंदिर प्रांगण में खड़े दो नीम के पेड़ों के बीच देवी मूर्ति प्रकट हुई है. मां भगवती की इस मूर्ति की चर्चा आसपास के इलाकों में फैल गई है और ग्रामीणों की भीड़ दर्शन के लिए उमड़ रही है.

यह मामला हरदोई के हरपालपुर विकासखंड का है. यहां के ग्राम कठेठा के मां भगवती के मंदिर प्रांगण में दो नीम के पेड़ों के बीच एक देवी मूर्ति निकली है. यह मंदिर 200 वर्ष पुराना है. दरअसल पूरा गांव यहां रोज पूजा-अर्चना करता है. आज रविवार की सुबह गांव की महिला सुशीला देवी भी वहां पूजा करने पहुंचीं. वे वर्षों से यहां पूजा-अर्चना करती आ रही हैं. जब वह आज सुबह मंदिर पहुंचीं, तो उन्होंने मंदिर की सभी जगहों की साफ-सफाई करनी शुरू कर दी. तब उन्हें यह मूर्ति दिखी.

इन्हें भी पढ़ें :
OMG! गाय ने कुत्ते की शक्ल के बछड़े को दिया जन्म, फिर लोग इस वजह से चढ़ाने लगे चढ़ावा
रायबरेली पहुंचकर प्रियंका गांधी ने हनुमान मंदिर में मत्था टेका, मांगा जीत का आशीर्वाद

सुशीला देवी के मुताबिक, पहले उन्हें यह लगा कि कुकुरमुत्ता या फंगस जैसी कोई चीज उग आई है. तब उन्होंने उसे उखाड़ कर साफ करने की बात सोची. जब उन्होंने उसे उखाड़ने की कोशिश की तो बहुत कोशिश के बाद भी वह उखड़ा नहीं. इसके बाद सुशीला ने उसे अच्छे तरीके से धोया, तो वहां उन्हें मां भगवती की मूर्ति दिखी. सुशीला बताती हैं कि मूर्ति पूरी तरह से सिंदूरी है. तब उन्होंने इसकी जानकारी अपने घर के लोगों को दी. फिर धीरे-धीरे वहां ग्रामीणों की भीड़ उमड़ने लगी. अब गांव की महिलाएं वहां लगातार पूजा-अर्चना कर रही हैं और प्रसाद चढ़ा रही हैं. फिलहाल, गांव के लोग इसे दैवीय चमत्कार मान रहे हैं और मूर्ति के दर्शन के लिए वहां आ रहे हैं. अभी इसका कोई वैज्ञानिक पहलू सामने नहीं आया है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज