Home /News /uttar-pradesh /

record rain of 138 mm in 15 hours water filled city farmers kharif sowing nodelsp

बारिश ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड: 15 घंटे में 138 मिमी बारिश, गर्मी से राहत मगर शहर पानी-पानी

हरदोई जिले में पिछले 15 घंटों से 138 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई है.

हरदोई जिले में पिछले 15 घंटों से 138 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई है.

Heavy rain in up: गर्मी व सूखे की मार झेल रहे लोगों यूपी के कई जिलों में बारिश से राहत मिली है. हरदोई जिले में पिछले 15 घंटों से 138 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई है. जून महीने में इतनी वर्षा साल 2012 से पहले हुई थी. इस बार अच्छी बरसात होने से जहां किसानों के चेहरे खिल गए हैं तो वहीं नगरों में जलभराव की स्थिति बनी रही.

अधिक पढ़ें ...

हरदोई. गर्मी व सूखे की मार झेल रहे लोगों यूपी के कई जिलों में राहत महसूस हो रही है. कई जगहों पर अच्छी बारिश होने की खबरें हैं. हरदोई जिले में पिछले 15 घंटों से 138 मिलीमीटर वर्षा रिकॉर्ड की गई है. जून महीने में इतनी वर्षा साल 2012 से पहले हुई थी. इस बार अच्छी बरसात होने से जहां किसानों के चेहरे खिल गए हैं तो वहीं नगरों में जलभराव की स्थिति बनी रही.

बताते चलें कि जिले में भयंकर गर्मी व सूखा पड़ा हुआ था. कई दिनों से बादल बन रहे थे, लेकिन बरसात नहीं हो रही थी. बरसात न होने की वजह से खेती किसानी का कार्य बाधित हो रहा था. जिन क्षेत्रों में धान की फसल बोई जाती है वहां के किसान काफी परेशान थे. बारिश होने से किसान अब धान की बुआई की तैयारी में जुट गए हैं. जिले में बुधवार की शाम से मौसम बदलना शुरू हुआ. धीरे धीरे बुधवार की रात से बारिश शुरू हुई. पूरे जिले में जमकर बारिश हुई बीते 15 घंटों के दौरान जिले में 138 मिलीमीटर वर्षा दर्ज की गई है. बरसात होने से तापमान में भी भारी गिरावट आई है. जहां 28 जून को जिले का तापमान 36 डिग्री था वहीं 30 जून को तापमान 26 डिग्री रह गया. बरसात से तापमान में 10 डिग्री की गिरावट दर्ज हुई है.

बारिश ने तोड़ा 10 साल का रिकॉर्ड
मौसम विभाग के अनुसार जून महीने में 2012 से पूर्व इतनी वर्षा जिले में हुई थी, तब से जून महीने में बरसात नहीं हुई. हालांकि पूरे जून महीने में नाम मात्र की बारिश हुई, लेकिन जून के अंतिम दिन बरसात में पिछले 10 सालों से का रिकॉर्ड तोड़ दिया. बरसात होने से ग्रामीणों के चेहरे खिल गए अब लोगों को धान व खरीफ की फसल बुवाई करने में आसानी हो जाएगी.

कलेक्ट्रेट परिसर बना टापू
सूखे के चलते गांवों में तालाब-पोखर सूख गए थे, जिससे पशुपालकों को भारी दिक्कतें उठानी पड़ रही थीं. बरसात होने के बाद पशुपालकों को इस समस्या से भी छुटकारा मिल गया. जहां बरसात से किसानों के चेहरे खिल गए वहीं नगर में जलभराव की स्थिति देखी गई. नगर के मुख्य मार्गों पर घंटों सड़कें पानी में डूबी रहीं. कलेक्ट्रेट परिसर पूरे दिन टापू में तब्दील रहा.

नाले चौक होने से नगर में भरा पानी
जलभराव की समस्या देखने के लिए उप जिलाधिकारी सदर दीक्षा जैन व नगरपालिका अध्यक्ष सुख सागर मिश्र मधुर बरसात में नगर का भ्रमण करते रहे. नगर पालिका अध्यक्ष ने बताया कि पॉलिथिन के कारण शहर की अधिकांश नालियां नाले चौक हो गए हैं. हालांकि नालों की सफाई कराई गई थी, लेकिन अत्यधिक पॉलिथीन होने के कारण पुनः नाले नालियां बंद हो गए हैं. इस कारण नगर में जलभराव हो गया. जल्द ही नालों की दोबारा सफाई कराई जाएगी. पालिका अध्यक्ष ने जलभराव से निजात दिलाने के लिए बरसात में ही नाले नालियों की तत्काल सफाई कराई.

Tags: Hardoi News, UP news, UP weather alert

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर