होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

यूपी: हरदोई में चोरी-चुपके स्कूल की लकड़ी बेचने जा रहे थे 'गुरुजी', रास्ते में हो गया यह कांड

यूपी: हरदोई में चोरी-चुपके स्कूल की लकड़ी बेचने जा रहे थे 'गुरुजी', रास्ते में हो गया यह कांड

यूपी के हरदोई में चुपके से विद्यालय की लकड़ी बेचने जा रहे प्रधानाध्यापक को रास्ते में वन विभाग ने धर दबोचा

यूपी के हरदोई में चुपके से विद्यालय की लकड़ी बेचने जा रहे प्रधानाध्यापक को रास्ते में वन विभाग ने धर दबोचा

यूपी के हरदोई में बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षक का यह कारनामा जिले के विकासखंड बावन के संविलियन विद्यालय कौंढा का है, जहां वन विभाग ने ट्रैक्टर ट्रॉली से आम और नीम की लकड़ी ले जाते समय ठेकेदार और विद्यालय के प्रधानाचार्य को पकड़ा.

हरदोई: यूपी के हरदोई में बेसिक शिक्षा विभाग के एक हेडमास्टर का हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां उसे स्कूल की लकड़ी चोरी करते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया है. दरअसल, विद्यालय का प्रधानाध्यापक स्कूल में पेड़ गिरने के बाद आम और नीम के पेड़ों की लकड़ी कटवा कर ट्रैक्टर ट्रॉली से बेचने जा रहा था. इस दौरान सूचना पर वन विभाग की टीम ने गुरुजी को लकड़ी के साथ धर दबोच लिया.

वन विभाग अब लकड़ी को कब्जे में लेकर विधिक कार्रवाई में जुटा है. बताया जा रहा है कि नीलामी की प्रक्रिया अमल में लाई जाती तो नीलामी के बाद लकड़ी बिक्री का पैसा विभाग के खाते में जमा कराया जाता लेकिन आलोक पांडेय नाम का प्रधानाध्यापक होशियार निकला और लकड़ी बेचने खुद ही निकल पड़ा, तभी किसी ने सूचना दे दी और वन विभाग ने रास्ते में ही उसे पकड़ लिया.

बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षक का यह कारनामा जिले के विकासखंड बावन के संविलियन विद्यालय कौंढा का है, जहां वन विभाग ने ट्रैक्टर ट्रॉली से आम और नीम की लकड़ी ले जाते समय ठेकेदार और विद्यालय के प्रधानाचार्य को पकड़ा. वन विभाग के मुताबिक, कौंढा संविलियन विद्यालय में आम और नीम के पेड़ गिर गए थे. लकड़ी कटवाकर बाजार में बेचने के लिए विद्यालय के प्रधानाध्यापक आलोक पांडेय के द्वारा ट्रैक्टर ट्रॉली से ठेकेदार के साथ ले जाई जा रही थी. इस दौरान सूचना पर शहर कोतवाली क्षेत्र में जेल रोड पर वन विभाग ने ट्रैक्टर ट्रॉली रोककर जब दस्तावेज मांगे तो विद्यालय के प्रधानाचार्य और ठेकेदार कोई भी अभिलेख नहीं दिखा सके, जिसके बाद वन विभाग ने लकड़ी को जब्त कर रेंज ऑफिस में रखवाया है.

इस बारे में वन रेंज अधिकारी ने बताया कि लकड़ी को जब्त किया गया है और पूरे मामले में ट्रैक्टर ट्रॉली का चालान कर विधिक कार्रवाई की जा रही है. नीलामी की प्रक्रिया को विद्यालय के प्रधानाचार्य द्वारा कराया जाना था लेकिन वह अनाधिकृत रूप से इसे बाजार में बेचने के लिए ले जा रहे था. इसकी सूचना बेसिक शिक्षा अधिकारी को भी दी जाएगी. इस बारे में विकासखंड बावन के खंड शिक्षा अधिकारी संजीव भारती ने बताया कि कौंढा सांविलियन विद्यालय में कुछ दिन पूर्व पेड़ गिर गए थे. इस मामले में नीलामी की प्रक्रिया अपनाई जानी थी लेकिन नहीं अपनाया गया. पूरे प्रकरण की जांच कराई जा रही है और जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी.

Tags: Hardoi News, Uttar pradesh news

अगली ख़बर