Uttar Pradesh : 7 बरस की मासूम के साथ हरदोई में बलात्कार, पॉक्सो एक्ट में पड़ोसी गिरफ्तार

बच्ची को मेडिकल टेस्ट के लिए भेज आरोपी को पॉक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है.
बच्ची को मेडिकल टेस्ट के लिए भेज आरोपी को पॉक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है.

परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने बलात्कार और पॉक्सो एक्ट (POCSO Act) के तहत मुकदमा दर्ज (FIR) कर आरोपी युवक को गिरफ्तार (Arested) कर लिया है. बच्ची का मेडिकल टेस्ट कराया जा रहा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 12, 2020, 6:10 PM IST
  • Share this:
हरदोई. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है. योगी सरकार (Yogi Government) की तमाम कोशिशें खाली जा रही हैं और अपराध का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है. ताजा मामला 7 बरस की बच्ची के साथ बलात्कार (Rape) का है. हाथरस में हुई मामले की आंच अभी ठंडी भी नहीं पड़ी थी कि एक नई वारदात हरदोई में हो गई.

सूत्रों ने बताया कि हरदोई (Hardoi) में अपने घर के बाहर बच्चों के साथ खेल रही बच्ची को पड़ोसी युवक अपने साथ उठाकर ले गया. बच्ची को एक घर में ले जाकर उसने उसके साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया. घर पहुंची बच्ची ने परिजनों को अपने साथ हुई वारदात की जानकारी दी. जिसके बाद आक्रोशित परिजन बच्ची को लेकर स्थानीय थाने पहुंचे और मामले की शिकायत की. परिजनों की शिकायत पर पुलिस ने आरोपी युवक के खिलाफ बलात्कार और पॉक्सो एक्ट (POCSO Act) के तहत मुकदमा दर्ज (FIR) कर लिया है. साथ ही मेडिकल टेस्ट के लिए बच्ची को अस्पताल भेजकर आरोपी युवक को गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है.





बलात्कार का यह मामला हरदोई जिले के थाना सुरसा इलाके के एक गांव का है. यहां एक बलात्कारी ने 7 साल की मासूम बच्ची के साथ वारदात को अंजाम दिया. दरअसल बच्ची अपने घर के बाहर अन्य बच्चों के साथ खेल रही थी. तभी पड़ोसी युवक टॉफी खिलाने के बहाने बच्ची को बहला-फुसलाकर अपने साथ ले गया और अपने घर ले जाकर उसके साथ बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया. बलात्कारी के चंगुल से छूटने के बाद किसी तरह अपने घर पहुंची बच्ची ने परिजनों को वारदात की जानकारी दी. जिसके बाद आक्रोशित परिजन बालिका को लेकर स्थानीय थाना पहुंचे और पूरे मामले की शिकायत पुलिस से की. पुलिस ने परिजनों की तहरीर पर आरोपी युवक के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है. इसके साथ ही बच्ची को डॉक्टरी परीक्षण के लिए जिला अस्पताल भेजा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज