लाइव टीवी

हरदोई: 50 हजार में महिला को 7 महीने बच्चे के साथ बेचा, 3 गिरफ्तार
Hardoi News in Hindi

ashish mishra | News18 Uttar Pradesh
Updated: February 11, 2020, 9:41 PM IST
हरदोई: 50 हजार में महिला को 7 महीने बच्चे के साथ बेचा, 3 गिरफ्तार
हरदोई पुलिस ने मानव तस्करी मामले में एक महिला सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

हरदोई पुलिस (Hardoi Police) इस प्रकरण में अभी कई लोगों के सामने आने की बात कर रही है. एसपी अमित कुमार ने खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 15 हजार का इनाम देने की घोषणा की है.

  • Share this:
हरदोई. उत्तर प्रदेश के हरदोई (Hardoi) में ह्यूमन ट्रैफिकिंग (Human Trafficking) का मामला सामने आया है. यहां एक महिला को एक युवक ने 50 हजार रुपये में खरीद कर कमरे में बंधक बनाकर रखा था. ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने महिला को मुक्त कराया और इस पूरे मामले में एक महिला समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. पीड़िता का डॉक्टरी परीक्षण के बाद 164 के बयान आदि कराया जा रहे हैं. फिलहाल पूरे मामले में पुलिस जांच में लगी है. इस प्रकरण में अभी कई लोगों के सामने आने की बात पुलिस कर रही है. एसपी ने खुलासा करने वाली पुलिस टीम को 15 हजार का इनाम देने की घोषणा की है.

इस सनसनीखेज मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने बताया कि अरवल थाना के परचोली गांव में पुलिस को सूचना मिली कि एक महिला और एक 7 माह का बच्चा, जिसको मित्रपाल अपने घर में बंधक बनाए हुए हैं, वह संदिग्ध है. इस सूचना पर पुलिस ने इस पूरे मामले में पड़ताल शुरू की तो पता चला यह महिला रूबी उर्फ पूजा पत्नी अली मोहम्मद निवासी ग्राम इब्राहिमपुर जनपद कन्नौज की रहने वाली है. इसको जनपद फर्रुखाबाद के थाना मऊ दरवाजा के बजरिया मोहल्ला निवासी नसीमा पत्नी सिराज ने जनपद फतेहगढ़ के रूपपुर, मंगलपुर के निवासी मिट्ठू लाल के माध्यम से मित्रपाल को 50 हजार में बेचा है.

इस मामले में पुलिस ने मित्रपाल मिट्ठू लाल व नसीमा को गिरफ्तार कर पीड़िता रूबी उर्फ पूजा को बंधक मुक्त कराया. एसपी के मुताबिक महिला और उसके पति के परिजनों को बीमारी की हालत में लखनऊ में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के दौरान इन दोनों लोगों की मुलाकात हुई. यह मुलाकात दोस्ती के बाद प्यार में तब्दील हो गई, जिसके बाद दोनों ने भागकर गाजियाबाद में शादी कर ली थी. बताया कि परिवार की मर्जी के बिना शादी करने के बाद वह गाजियाबाद में रहकर काम करने लगा था.

एसपी ने बताया करीब 1 महीने पहले अली मोहम्मद गाजियाबाद से यह कहकर घर चला आया था कि उसकी मां की तबीयत खराब है. और कुछ दिन बाद उसने अपनी पत्नी को फोन करके बुलाया था कि वह मां की देखभाल करेगी. वह गाजियाबाद जाकर काम करेगा. एसपी ने बताया कि लेकिन जब रूबी उर्फ पूजा लखनऊ पहुंची तो उसके पति ने उससे बात करना बंद कर दिया. इसके बाद 2 दिन वह स्टेशन पर रुकी थी और वहीं पर कुछ महिलाएं मिली, जिनमें शबनम भी थी. जिससे इसने अपनी बात बताई इसके बाद शबनम इसे लेकर फर्रुखाबाद पहुंची थी.

वहां पर शबनम ने इसे काम दिलाने की बात कही थी और कुछ दिन रखने के बाद शादी की बात भी की थी. जिसके बाद नसीमा ने उसे बेंच दिया था. एसपी का कहना है कि इस पूरे मामले में अभी और पड़ताल की जा रही है अभी कई लोगों के सामने आएंगे. जिम्मेदारी तय होने पर उनके विरुद्ध भी विधिक कार्यवाही की जाएगी. एसपी ने इस पूरे मामले में अरवल पुलिस को 15 हजार का इनाम देने की घोषणा की है.

ये भी पढ़ें:

आगरा: फिल्म स्टार सारा अली खान और कार्तिक आर्यन ने किए ताज के दीदारजमीन विवाद में 24 साल पहले दादा का काटा था सिर, वकील पोते समेत 2 को फांसी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदोई से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 11, 2020, 9:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर