होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /हरदोई: घर बुलाकर मासूम का सिर दीवार से मारा, मुंह में भरा भूसा, हत्यारोपी ताई गिरफ्तार

हरदोई: घर बुलाकर मासूम का सिर दीवार से मारा, मुंह में भरा भूसा, हत्यारोपी ताई गिरफ्तार

हरदोई के माधौगंज थाना इलाके में 6 दिन पहले 4 साल के मासूम बच्चे की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है.

हरदोई के माधौगंज थाना इलाके में 6 दिन पहले 4 साल के मासूम बच्चे की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है.

एसपी के मुताबिक, रामवती ने पुलिस को बताया कि 14 अक्टूबर को लगभग 4:30 बजे उसके बेटे सचिन (9) का मृतक कृष्णा के चाचा कौशल ...अधिक पढ़ें

हरदोई. हरदोई के माधौगंज थाना इलाके में 6 दिन पहले 4 साल के मासूम बच्चे की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने इस मामले में मृतक मासूम बच्चे की ताई को गिरफ्तार किया है. पुलिस के मुताबिक मृतक मासूम बच्चे के चाचा का हत्यारोपी ताई के बेटे से विवाद हो गया था, उसको सबक सिखाने के नीयत से महिला ने 4 वर्ष के मासूम बच्चे को अपने घर बुलाया और उसे धक्का मार दिया, जिससे दीवार में टकराने से बच्चे की मौत हो गई. इसके बाद भी महिला ने बच्चे के मुंह में भूसा भर दिया और प्लास्टिक की बोरी में लपेट कर उसके शव को अपने घर के दूसरे कमरे में छिपा दिया था. मौका मिलने के बाद महिला ने बच्चे के शव को झाड़ियों में फेंक दिया था.

जानकारी के अनुसार, मारपीट के मामले में प्रतिशोध लेने की नीयत से 4 साल के मासूम की हत्या करने की सनसनी खेज वारदात माधौगंज थाना क्षेत्र के ईकसई गांव में हुई थी.

एसपी राजेश द्विवेदी ने बताया कि 14 अक्टूबर को माधौगंज थाना क्षेत्र के इकसई गांव निवासी 4 वर्षीय कृष्णा पुत्र ईश्वर चंद के घर के बाहर खेलते हुए गायब होने की सूचना पुलिस को मिली थी. पुलिस ने इस में मुकदमा पंजीकृत कर लिया था और स्थानीय पुलिस द्वारा टीमों को गठित कर गुमशुदा बच्चे की तलाश के लिए प्रयास जारी किए थे, परंतु बच्चे का कोई सुराग नहीं मिला था. 18 अक्टूबर को गुमशुदा कृष्णा का शव गांव के ही इकबाल मिस्त्री के घर के पीछे झाड़ियों में पड़ा मिला. इस पूरे मामले में शव बरामदगी के बाद स्थानीय पुलिस द्वारा 363 के अपराध में पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने पर हत्या और शव को छिपाने की धारा की बढ़ोतरी की गई थी. ब्लाइंड मर्डर के खुलासे के लिए एसपी ने मौके पर पहुंचकर निरीक्षण किया था और टीमों को गठित कर लगाया गया था.

एसपी ने बताया कि तमाम प्रकार के पहलुओं पर जांच हो रही थी डाग स्क्वायड व सर्विलांस की मदद से तमाम परिस्थितियों के साक्ष्यों के आधार पर यह ज्ञात हुआ था कि बच्चों के विवाद के चलते मृतक कृष्णा की ताई रामवती पत्नी यदुवीर द्वारा यह घटना की गई है. मामला प्रकाश में आने के बाद पुलिस द्वारा रामवती को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया. एसपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान रामवती ने पुलिस को पूरी कहानी बयां कर दी.

एसपी के मुताबिक, रामवती ने पुलिस को बताया कि 14 अक्टूबर को लगभग 4:30 बजे उसके बेटे सचिन (9) का मृतक कृष्णा के चाचा कौशल से चबूतरे पर कंचे खेलते समय विवाद हो गया था. कौशल द्वारा सचिन का पहले से ही चोटिल हाथ मरोड़ दिया गया था. यह बात सचिन ने उसे बताई थी. इस बात से आहत होकर उसने कौशल व उसके परिवार को सबक सिखाने के लिए 4 वर्षीय कृष्णा को खेलते समय अपने घर बुलाया. जैसे ही वह घर आया उसने घर के पिछले हिस्से में जहां पर भूसा भरा था. वहां जान से मारने की नियत से जोर से धक्का मारास जिससे मासूम के सर का पिछला हिस्सा दीवार में टकरा जाने से उसकी मौके पर ही मौत हो गई,लेकिन मौत को सुनिश्चित करने के लिए उसने मासूम के मुंह में भूसा भर दिया और पास पड़ी प्लास्टिक की बोरी में लपेट कर उसके शव को अपने घर के दूसरे कमरे में बक्से में छिपा दिया था. उसने किसी को बताया नहीं, लेकिन पुलिस की लगातार सक्रियता को देखते हुए और पकड़े जाने के डर से उसने 2 दिन बाद मौका पाकर कृष्णा के शव को अपने घर से निकाल कर गांव के इकबाल मिस्त्री के गोंडा के पीछे झाड़ियों में छिपा दिया और प्लास्टिक की बोरी को अपने छप्पर में छिपा दिया था. पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त प्लास्टिक की बोरी बरामद की है और पुलिस ने महिला को जेल भेज दिया है.

Tags: 3 year old girl murdered, Up news live, UP Police Alert

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें