लाइव टीवी

युवक को जिंदा जलाने के मामले में सियासत तेज, मायावती ने की निंदा तो योगी सरकार ने दी आर्थिक मदद

News18 Uttar Pradesh
Updated: September 18, 2019, 4:33 PM IST
युवक को जिंदा जलाने के मामले में सियासत तेज, मायावती ने की निंदा तो योगी सरकार ने दी आर्थिक मदद
अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी ज्ञानंजय सिंह ने बताया कि घटना के बाद मुख्य अभियुक्त तीनों लोगों को गिरफ्तार कर जेला भेजा जा चुका है.

उत्तर प्रदेश सरकार ने बुधवार को पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता की पहली किश्त 4 लाख 12 हजार 500 रुपये दी. जानकारी के अनुसार इसके तहत 8 लाख 25 हजार की आर्थिक सहायता दी जानी है.

  • Share this:
हरदोई. उत्तर प्रदेश के हरदोई (Hardoi) में प्रेम प्रसंग में दलित युवक को जलाकर मार देने के मामले में योगी सरकार (Yogi Government) ने पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता (Financial Aid) का ऐलान किया है. जानकारी के अनुसार इसके तहत 8 लाख 25 हजार की आर्थिक सहायता दी जानी है. बुधवार को पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता की पहली किश्त 4 लाख 12 हजार 500 रुपये दी गई. मामले में अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी ज्ञानंजय सिंह ने बताया कि घटना सामने आने के बाद मुख्य अभियुक्त तीनों लोगों को गिरफ्तार कर जेला भेजा जा चुका है. मामले में शासन द्वारा स्वीकृत आर्थिक सहायता की आधी राशि पीड़ित परिवार को उपलब्ध कराई जा रही है. शेष राशि चार्जशीट दाखिल किए जाने के बाद जारी की जाएगी.

BSP ने की सख्त कार्रवाई की मांग
बता दें कि बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमाे मायावती ने घटना को अति क्रूर बताते हुए इसकी निंदा की है. उन्होंने घटना के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है. मायावती ने बुधवार को ट्वीट कर लिखा, 'उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में प्रेम-प्रसंग को लेकर जाति के नाम पर एक दलित युवक को जिंदा जला देना, यह अति-क्रूर और अति निंदनीय है. सरकार इसके दोषियों को तुरंत सख्त सजा दिलाये ताकि प्रदेश में आगे ऐसी कोई पुनरावृति ना हो सके, बीएसपी की यह मांग है.'

बता दें कि हरदोई जिले के कोतवाली शहर क्षेत्र में अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गए युवक को लड़की के घरवालों ने चारपाई से बांधकर जिंदा जला (Burnt Alive) दिया था. 50 फ़ीसदी तक जले युवक ने बाद में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था. बेटे की मौत की खबर मिलते ही बीमार मां की सदमे में जान चली गई. पुलिस (Police) ने इस मामले में लड़की समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है.

hardoi man burnt alive
जिस घर में युवक को पकड़कर चारपाई से बांधकर जला दिया गया था वहां का मुआयना कर तफ्तीश करती यूपी पुलिस


चारपाई से बांधकर जिंदा जलाया
मामला हरदोई जिले के भदैचा गांव का है, जहां का रहने वाला मोनू राधेश्याम की भतीजी से प्यार करता था. बीते शनिवार की रात मोनू अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर गया था, जहां उसे लड़की के घरवालों ने रंगे हाथों पकड़ लिया. उसके बाद सबने मिलकर मोनू को चारपाई से बांध दिया और उसे जिंदा जला दिया. मोनू की चीख सुनकर गांववालों ने डायल 100 को इसकी सूचना दी. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मोनू को प्रेमिका के घरवालों से आजाद कराकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसकी हालत को गंभीर देखते हुए लखनऊ रेफर कर दिया गया. लेकिन रास्ते में ही मोनू ने दम तोड़ दिया. बेटे की मौत की खबर सुनते ही अस्पताल में भर्ती उसकी बीमार मां की भी सदमे से मौत हो गई.6 साल पहले भी फरार हुए थे प्रेमी युगल
पुलिस अधीक्षक (एसपी) आलोक प्रियदर्शी ने बताया कि गांव का ही मोनू राधेश्याम की भतीजी से प्रेम करता था. लगभग 6 साल पहले प्रेमी जोड़ा घर से फरार हो गया था, लेकिन तब लड़की के घरवाले उन्हें ढूंढकर वापस ले आए थे. शनिवार रात मोनू अपनी प्रेमिका से मिलने उसके घर पहुंच गया. जिसके बाद घरवालों ने उसको रंगे हाथों पकड़ लिया और फिर घर की कोठरी में चारपाई से बांध कर आग के हवाले कर दिया. लगभग 50 प्रतिशत जले मोनू की चीख-पुकार सुनकर इलाके के लोगों ने पुलिस को इसकी सूचना दी. इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने मोनू को वहां से छुड़ाया और जिला अस्पताल में भर्ती कराया था.

(इनपुट: आशीष मिश्रा)

ये भी पढ़ें:

SC युवक को जिंदा जलाने पर बिफरीं मायावती, बोलीं- दोषियों को मिले सख्त सजा

प्रेमिका से मिलने गए प्रेमी को खाट से बांधकर जिंदा जलाया,सदमे से मां की भी मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए हरदोई से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 18, 2019, 3:51 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर