हाथरस केस: पीड़िता और मां का वीडियो बनाने वालों से CBI ने की घंटों पूछताछ, इस तरह के पूछे सवाल

गैंगरेप पीड़िता के घर के सामने बैठे जांच अधिकारी (फाइल फोटो)
गैंगरेप पीड़िता के घर के सामने बैठे जांच अधिकारी (फाइल फोटो)

कथित गैंगरेप (Gangrape) और हत्या (Murder) के मामले में सीबीआई (CBI) की टीम ने गांव के बाहर बने अपने कैंप में दो लोगों को बुलाकर घंटों पूछताछ की. इन दोनों लोगों से सीबीआई ने कुछ इस तरह के सवाल पूछे...

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 2:29 PM IST
  • Share this:
हाथरस. हाथरस (Hathras) में कथित गैंगरेप (Gangrape) और हत्या (Murder) के मामले में सीबीआई (CBI) ने गांव के बाहर बने अपने कैंप पर दो लोगों को पूछताछ के लिए बुलाया. इन दोनों लोगों ने थाना चंदपा और जिला अस्पताल (Hospital) में पीड़िता और उसकी मां का वीडियो बनाया था. इनसे सीबीआई की टीम ने घंटों पूछताछ की. टीम ने पूछा कि जिस वक्त पीड़िता थाने आयी थी तो उसकी हालत कैसी थी. उसने अपने बयानों में क्या कहा था. इसके बारे में सीबीआई ने सवाल-जवाब किये. इसके बाद टीम चंदपा कोतवाली भी पहुंची.

दिल्ली से आए संगठन के लोग पीड़ित परिवार से मिले
हाथरस गैंगरप और हत्या के मामले में पीड़ित परिवार से मिलने आने वालों का सिलसिला जारी है. गुरुवार को राष्ट्रीय दलित बचाओ मोर्चा के पदाधिकारी ने पीड़ित परिवार से मुलाकात की. इस दौरान मोर्चा के कार्यवाहक अध्यक्ष संजय कामवाल, सुरेन्द्र वाल्मीकि, ओपी शुक्ला आदि मौजूद रहे. इन सभी ने काफी देर पीड़ित परिवार से बात की.

हाथरस कांड: फोरेंसिक टीम के साथ तीसरी बार घटनास्थल पहुंची CBI टीम, पूछताछ के बाद रोती दिखी पीड़िता की मां
STF पड़ताल के लिए चंदपा कोतवाली पहुंची


गैंगरेप और हत्या के मामले में यूपी में जातीय दंगा कराने की साजिश में दर्ज मुकदमे की विवेचना बरेली की एसटीएफ को दी गई है. गुरुवार को एसटीएफ की टीम ने चंदपा कोतवाली आकर प्रभारी निरीक्षक से बूलगढ़ी की घटना के सबंध में बातचीत की. बूलगढ़ी की पीड़िता की मौत के बाद यूपी में सियासी संग्राम चला. बूलगढ़ी कांड को लेकर यूपी सरकार को घेरने की कोशिश भी हुई.

इसी में चंदपा पुलिस ने क्राइम नंबर 154 अपने यहां दर्ज कर लिया है, जिसमें दंगा कराने की साजिश जैसी धाराएं शामिल हैं. इसी मुकदमे में एसटीएफ बरेली कांग्रेस के एक नेता से पूछताछ कर चुकी है. गुरुवार को एसटीएफ के इंस्पेक्टर अजय कुमार सह फिर विवेचना करने के लिए आये. इंस्पेक्टर चंदपा से बातचीत की. थोड़ी देर थाने में रुकने के बाद टीम के लोग निकल गये.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज