COVID-19: हाथरस में कोरोना विस्फोट, एक ही परिवार के 10 लोग हुए संक्रमित, 4 बच्‍चे भी चपेट में
Hathras News in Hindi

COVID-19: हाथरस में कोरोना विस्फोट, एक ही परिवार के 10 लोग हुए संक्रमित, 4 बच्‍चे भी चपेट में
बांग्लादेश के डॉक्टरों ने दावा किया है कि उन्होंने कोरोना की दवा खोज ली है.

COVID-19: हाथरस जनपद में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण लगातार Coronavirus पॉजिटिव लोगों की संख्या बढ़ रही है.

  • Share this:
हाथरस. स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते कोरोना वायरस (COVID-19) के संक्रमण का संकट हाथरस (Hathras) जिले में गहरा गया है. जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों में लगातार इजाफा हो रहा है. सोमवार को एक ही परिवार के 10 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया. दरअसल, इस परिवार के बुजुर्ग नोएडा से इलाज कराकर वापस लौटे थे, जिसके बाद उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई थी. स्वास्थ्य विभाग ने इनके परिवार के 27 लोगों को क्वारंटाइन किया था. अब 10 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. इसमें 4 बच्चे भी शामिल हैं. फिलहाल हाथरस जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 19 हो गई है, जिसमें एक्टिव मरीजों की संख्या 15 है.

बता दें कि हाथरस जनपद में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के कारण लगातार कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या बढ़ रही है. अब एक ही परिवार के 10 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मचा हुआ है. बता दें कि एक हफ्ता पूर्व ज्ञानेंद्र अग्रवाल नाम के बुजुर्ग नोएडा के जेपी हॉस्पिटल से इलाज करवाकर लौटे थे. वापस लौटे तो उनका स्वास्थ्य परीक्षण कराया गया. दो दिन बाद उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव पाई गई, जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें अलीगढ़ रेफर कर दिया और उनके परिवार के 27 लोगों को क्वारंटाइन कर दिया. जिनका कोरोना सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया.

जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 15
इस परिवार के 10 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद अब जिले में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 9 से बढ़कर 19 हो गई है, जिसमें चार लोग तबलीगी जमात से जुड़े थे, जिन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है. फिलहाल जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या 15 है. हाथरस स्वास्थ्य विभाग द्वारा लगातार की जा रही लापरवाही के कारण बाहर से आने वाले लोगों की सूचना के बाद भी स्वास्थ्य विभाग गंभीरता से नहीं ले रहा है. इसका खामियाजा जिले में बढ़ते कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या के कारण भुगतना पड़ रहा है. फिलहाल सभी 10 लोगों को क्‍वारंटाइन किया गया है.
सीएमओ ने कही ये बात


जब इस मामले में हाथरस के मुख्य चिकित्सा अधिकारी बृजेश राठौर से बात की गई तो उन्होंने बताया कि ज्ञानेंद्र अग्रवाल (कैंसर से पीड़ित) नोएडा से कीमोथेरेपी करा कर आए थे. उनके घर के सभी मेंबर को क्वारंटाइन किया गया था. अब उनके परिवार के 10 लोग पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्‍होंने बताया कि ऐसा प्रतीत होता है कि उनके परिवार द्वारा कहीं न कहीं निश्चित रूप से लापरवाही बरती गई है. नोएडा से आने के बाद ज्ञानेंद्र की जांच कराई गई थी.

ये भी पढे़ं:

COVID-19: CM योगी ने सीनियर अफसरों को सौंपी आगरा, मेरठ और कानपुर की कमान
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज