सरकारी दफ्तर को मयखाना समझ कर्मचारी छलका रहे थे जाम, Video Viral हुआ तो...
Hathras News in Hindi

सरकारी दफ्तर को मयखाना समझ कर्मचारी छलका रहे थे जाम, Video Viral हुआ तो...
कर्मचारियों को महंगा पड़ा सरकारी दफ्तर को मयखाना बनाना

वीडियो सामने आने के बाद अब कई विभागों के अधिकारियों ने तो अपने मातहतों से पता लगाना भी शुरू कर दिया कि उनके दफ्तर में तो ऑफिस टाइम में कोई शराब (Wine) नहीं पीता.

  • Share this:
हाथरस. सरकारी दफ्तर में पार्टी करना और जाम छलकाना कुछ कर्मचारियों को उस समय भारी पड़ गया जब ऐसा करते हुए उनका एक वीडियो वायरल हो गया. वीडियो वायरल होने के बाद डीएम ने मामले का संज्ञान लिया और हाथरस के सहपऊ ब्लॉक में तैनात लेखाधिकारी को निलंबित कर दिया गया. सा‌थी ही वहां तैनात के बाबू के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई के लिए शासन को पत्र भेजा गया है.

जानकारी के मुताबिक हाथरस के सहपऊ ब्लॉक मैं अंदर बैठकर कुछ कर्मचारियों ने गोपनीय तरीके से कार्यालय में शराब का सेवन किया. शराब पीने का वीडियो वायरल होने के बाद हड़कंप मच गया. वीडियो में ब्लाक के कर्मचारी कार्यालय के अंदर ही टेबल पर सरेआम जाम छलकाते नजर आए हैं. कर्मचारी हाथ में पेग हाथ में लिए यहां-वहां घूम रहे थे. मेज पर चखना और शराब की बोतल सजी थीं. दूसरे महकमों में भी शराब पार्टी की चर्चा बनी हुई है. न्यूज18 पर खबर प्रकाशित होने के बाद जिलाधिकारी ने लिपिक पुरुषोत्तम सिंह व सहायक लिपिक उमेश चंद्र वशिष्ठ को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की.

ये भी पढ़ें: योगी सरकार ने तोड़ा सभी रिकॉर्ड, गन्ना किसानों को किया 418 करोड़ रुपये का भुगतान



जिलाधिकारी ने वरिष्ठ लिपिक के खिलाफ निलंबन की कार्यवाही के लिए नियुक्ति अधिकारी निदेशक आंतरिक लेखा अनुभाग लखनऊ को पत्र भेजा है. वही सहायक लिपिक को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. वहीं जिलाधिकारी द्वारा की गई इस कार्रवाई से ब्लॉक में हड़कंप मचा हुआ है. वीडियो सामने आने के बाद अब कई विभागों के अधिकारियों ने तो अपने मातहतों से पता लगाना भी शुरू कर दिया कि उनके दफ्तर में तो ऑफिस टाइम में कोई शराब नहीं पीता.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज