हाथरस कांड: पीड़ित परिवार ने रात में लखनऊ जाने से किया इनकार, CBI की टीम पहुंची थाने

पीड़ित परिवार ने रात में लखनऊ जाने से किया इनकार
पीड़ित परिवार ने रात में लखनऊ जाने से किया इनकार

Hathras Case: हाथरस के एसपी विनीत जायसवाल (SP Vineet Jaiswal) ने बताया कि यूपी पुलिस और प्रशासन की एक टीम पीड़ि‍ता के परिवार को कड़ी सुरक्षा में लखनऊ लेकर जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 12, 2020, 12:32 AM IST
  • Share this:
हाथरस. उत्तर प्रदेश के हाथरस में 14 सितंबर को दलित युवती के साथ हुई कथित सामूहिक बलात्कार (Gang Rape) की घटना की जांच सीबीआई ने अपने हाथ में ले ली है. रविवार को सीबीआई (CBI) की टीम जांच की शुरुआत करने के लिए सबसे पहले चंदपा पुलिस स्टेशन पहुंची है. बताया जा रहा है कि सीबीआई टीम के साथ फोरेंसिक टीम भी मौजूद रहेगी. वहीं, सोमवार सुबह पीड़िता के गांव पहुंच कर घटनास्थल का निरीक्षण कर सकती है. सूत्रों के मुताबिक 15 दिन तक सीबीआई की टीम हाथरस में रुक कर मामले की जांच करेगी.

पीड़िता के भाई के मुताबिक, हम रात में लखनऊ का सफर नहीं करना चाहते हैं. वहीं, परिवार के इनकार के बाद पुलिस ने जानकारी दी है कि अब लखनऊ के लिए सोमवार सुबह 5.30 बजे निकलना है. आपको बता दें कि हाईकोर्ट ने इस मामले में स्वत: संज्ञान लिया है. यही नहीं, इस पूरे मामले को लेकर परिवार ने अपनी जान का खतरा बताया था, इस वजह से उन्हें पुलिस की सुरक्षा दी गई है.


हाथरस के एसपी विनीत जायसवाल ने बताया कि यूपी पुलिस और प्रशासन की एक टीम इन्हें कड़ी सुरक्षा में लखनऊ लेकर जाएगी. पुलिस की इस टीम में 2 सीनियर अधिकारी, एक सीओ और एक मजिस्ट्रेट शामिल हैं. ये अधिकारी पीड़ित परिवार को लखनऊ ले जाने के दौरान सुरक्षा की निगरानी करेंगे.



कथित सामूहिक बलात्कार की शिकार 19 वर्षीय दलित लड़की की दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में 29 सितंबर को मौत हो गई थी. अभी तक हाथरस कांड की जांच एसआईटी कर रही थी. हाल ही में इस जांच को पूरा करने के लिए यूपी सरकार ने 10 दिनों का और वक्त दे दिया था, ताकि सच सामने आ सके. माना जा रहा था कि इस मामले में लगातार बढ़ते पेच की वजह से सरकार ने ये फैसला लिया, लेकिन अब ये मामला सीबीआई के पास पहुंच गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज