पीने का पानी नहीं तो 3 बेटियों के साथ पिता ने मांगी इच्छा मृत्यु, PM को लिखा पत्र

उत्तर प्रदेश के हाथरस में पीने लायक पानी नहीं मिलने की समस्या से जूझ रहे एक पिता ने अपने साथ तीन मासूम बेटियों के लिए इच्छा मृत्यु की मांग की है. इसके लिए पिता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रार्थना पत्र भी लिखा है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: June 15, 2019, 7:20 PM IST
News18 Uttar Pradesh
Updated: June 15, 2019, 7:20 PM IST
उत्तर प्रदेश के हाथरस में पीने लायक पानी नहीं मिलने की समस्या से जूझ रहे एक पिता ने अपने साथ तीन मासूम बेटियों के लिए इच्छा मृत्यु की मांग की है. इसके लिए पिता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रार्थना पत्र भी लिखा है. दरअसल, चंद्रपाल सिंह एक साल से भी अधिक समय से गांव में खारे पानी की समस्या को लेकर अधिकारियों के दफ्तरों के चक्कर लगाते रहे और शिकायत करते रहे लेकिन मामले पर कोई सुनवाई नहीं हुई.

हाथरथ जिलाधिकारी से लेकर मुख्यमंत्री दफ्तर तक में शिकायत करने पर जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो पिता ने बच्चियों के साथ मरना ही ज्यादा भला समझा. अधिकारियों के इस रवैये से तंग आकर चंद्रपाल ने अब इच्छा मृत्यु के लिए प्रधानमंत्री तक को पत्र लिख दिया है.



ग्रामीण पूर्व में कर चुके हैं धरना प्रदर्शन और आमरण अनशन
जिले के हसायन ब्लॉक क्षेत्र के गांवों में रहने वाले लाखों ग्रामीण खारे पानी की समस्या से परेशान हैं. पानी इतना ज्यादा खरा है कि इंसान क्या पशु भी इस पानी को पीने से कतराते हैं. इन गांवों में रहने वाले ग्रामीणों को पीने योग्य पानी लाने के लिए दो से तीन किलोमीटर दूर पैदल चलकर जाना पड़ता है.

खारे पानी की समस्या झेल रहे ग्रामीण पूर्व में धरना प्रदर्शन से लेकर आमरण अनशन तक कर चुके हैं. लेकिन आज तक इसका ग्रामीणों को इसका कोई फायदा नहीं हुआ. वर्षों बाद भी खारे पानी की समस्या का समाधान न होने पर जिले के हसायन ब्लॉक क्षेत्र नगला मया (महासिंहपुर) निवासी चंद्रपाल सिंह ने शनिवार को अपनी एक वीडियो बनाकर वायरल किया है. वीडियो में चन्द्रपाल सिंह और उनकी बेटी ने 'पानी दो या मौत दो' के नारे के साथ इच्छा मृत्यु की मांग की है.

(रिपोर्ट- रंजीत सिंह)

ये भी पढ़ें-
Loading...

गोरखपुर में 7 साल की बच्ची के साथ रेप, उतारा मौत के घाट

उत्तर प्रदेश में जंगलराज जैसे हालात, लखनऊ में बैठकें हो रहीं, जिलों में हत्याएं: अखिलेश यादव
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...