अपना शहर चुनें

States

हाथरस केस: सवर्ण समाज ने SIT को सौंपा खून से लिखा पत्र, कही ये बात

सवर्ण समाज ने SIT को सौंपा खून से लिखा पत्र
सवर्ण समाज ने SIT को सौंपा खून से लिखा पत्र

Hathras Case: राष्ट्रीय सवर्ण परिषद के राष्ट्रीय प्रचारक पंकज धवरैया ने एक खून से लिखा पत्र एसडीएम सदर को सौंपा है. साथ ही कहा कि उनका समाज पीड़ि‍त परिवार के साथ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 12:16 AM IST
  • Share this:
हाथरस. हाथरस कांड (Hathras Scandal) को लेकर सभी राजनीतिनक पार्टियों ने अपने स्तर से सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है. इसी कड़ी में सोमवार को राष्ट्रीय सवर्ण परिषद के राष्ट्रीय प्रचारक पंकज धवरैया ने एक खून से लिखा पत्र एसडीएम सदर को सौंपा. एसआईटी (SIT) को प्रेषित इस पत्र में कहा गया है कि इस मामले में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए. कोई निर्दोष नहीं फंसना चाहिए. भ्रामक खबरें फैलाने वाले राजनेताओं पर कार्रवाई की जानी चाहिए. यदि यह नेता अपनी गंदी राजनीति बंद नहीं करेंगे तो उनका हाथरस में घुसना मुश्किल हो जाएगा. मीडिया से बातचीत में धवरैया ने कहा कि हमारा समाज पीड़ित परिवार के साथ है.

पंकज धवरैया ने कहा कि जो भी आरोपी है उसके खिलाफ कार्रवाई हो. उन्होंने कहा कि अगर किसी बेगुनाह को फंसाया गया तो हाथरस में वो आंदोलन होगा, जिसे लोगों ने सपने में भी नहीं सोचा होगा. इससे पहले रविवार को पूर्व विधायक के आवास पर शुरू हुई इस पंचायत में हाथरस मामले को लेकर कई अहम बातें रखी गईं. पंचायत में क्षेत्र के सवर्ण समाज के लोग भी इकट्ठा हुए. पंचायत के दौरान सवर्ण समाज के लोगों ने पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए लोगों को निर्दोष बताया है. वहीं, सीएम योगी के सीबीआई जांच की सिफारिश वाले फैसले का सवर्ण समाज के लोगों ने स्वागत भी किया.

राष्ट्रीय सवर्ण परिषद ने खून से लिखा पत्र
राष्ट्रीय सवर्ण परिषद ने खून से लिखा पत्र





पीड़ित परिवार का कहना है कि उन्होंने सीबीआई जांच की मांग नहीं की थी. उनकी मांग है कि पूरे प्रकरण की जांच सुप्रीम कोर्ट के जज से करवाई जाए. हालांकि परिवार ने यह विश्वास जताया कि उन्हें योगी सरकार पर पूरा भरोसा है. हाथरस केस में जहां एक तरफ सियासत तेज है वहीं जांच एजेंसियां में भी तेजी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज