लाइव टीवी

Lockdown 4.0: हाथरस में मकान के अंदर मिला शव, तलाक के बाद 4 साल से अकेले रहती थी
Hathras News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: May 22, 2020, 9:25 AM IST
Lockdown 4.0: हाथरस में मकान के अंदर मिला शव, तलाक के बाद 4 साल से अकेले रहती थी
प्रतीकात्मक तस्वीर

हाथरस में मानसिक रूप से परेशान (Mental Illness) एक महिला की मौत (Died) हो गई. महिला की लाश बंद घर से मिली है. यहां महिला अकेली रहती थी जो किन्हीं कारणों से मृत पाई गई है.

  • Share this:
हाथरस. हाथरस में मानसिक रूप से परेशान (Mental Illness) एक महिला की मौत (Died) हो गई. महिला की लाश बंद घर से मिली है. यहां महिला अकेली रहती थी जो किन्हीं कारणों से मृत पाई गई है. लॉक डाउन (Lockdown) के कारण लोग अपने घरों में दुबके हुए हैं इसलिए उसके मरने की खबर पड़ोसियों को तभी पता चल पाई जब कुछ दिनों बाद उसका शव बदबू मारने लगा. लॉक डाउन ने सोसाइल डिस्टेंसिंग के नाम पर पास पड़ोस में एक दूरी पैदा करने का काम भी किया है.

संदिग्ध परिस्थितियों में मिली लाश

हाथरस के थाना हाथरस गेट क्षेत्र के चौबे वाले महादेव मंदिर के पास बंद पड़े एक मकान में संदिग्ध परिस्थितियों में एक महिला का शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई. मकान से जब दुर्गंध आना शुरू हुई तो पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी. सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और मकान के अंदर जाकर देखा तो वहां संदिग्ध परिस्थितियों में महिला का शव पड़ा हुआ था. यह शव कई दिन पुराना लग रहा था. बताया जा रहा है कि यह महिला घर में अकेली रहती थी फिलहाल पुलिस मामले की छानबीन कर रही है.



पुलिस ने दिया ये बयान...



इस मामले में जब हाथरस के पुलिस अधीक्षक गौरव वंशबाल से बात की गई तो उन्होंने बताया कि गेट थाना क्षेत्र में एक घर से काफी बदबू आने की सूचना मिली थी. घर जब खोल कर देखा गया तो उसमें एक महिला का संदिग्ध परिस्थितियों में शव मिला है. उन्होंने बताया कि 4 साल पहले महिला का का तलाक हो चुका था.

मानसिक रूप से विक्षिप्त थी महिला

महिला के रिश्तेदारों का कहना है कि महिला मानसिक रूप से विक्षिप्त थी और इस घर में अकेली ही रहती थी. इनकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी और गुजारा भी जैसे-जैसे चल रहा था. लॉक डाउन में शायद हालात और खराब हो गए होंगे. कुछ दिनों से यह महिला इन्हें दिखाई भी नहीं दे रही थी. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को भेजा दिया है. उसके बाद ही मृत्यु के कारणों का पता चल सकेगा.

ये भी पढ़ें: गुड़गांव से बस्ती पैदल जा रहे युवक की कानपुर में मौत, Corona Positive निकला

मजदूर की मजबूरी: 10 दिन में 780 KM पैदल चला श्रमिक, 7 दिन नसीब नहीं हुई रोटी
First published: May 22, 2020, 9:23 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading