होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /उत्तर प्रदेश के इस अस्पताल में अगर इलाज कराना हो तो पुलिस को साथ लाएं, जानें पूरा मामला

उत्तर प्रदेश के इस अस्पताल में अगर इलाज कराना हो तो पुलिस को साथ लाएं, जानें पूरा मामला

हाथरस जिला अस्पताल में इलाज कराना हो तो पुलिस को साथ लायें (सांकेतिक तस्वीर)

हाथरस जिला अस्पताल में इलाज कराना हो तो पुलिस को साथ लायें (सांकेतिक तस्वीर)

UP News: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) के हाथरस (Hathras News) जिले में डॉक्टरों की लापरवाही का एक ऐसा हैरान करने व ...अधिक पढ़ें

हाथरस: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh News) के हाथरस (Hathras News) जिले में डॉक्टरों की लापरवाही का एक ऐसा हैरान करने वाला मामला सामने आया है, जहां अगर पुलिस मौके पर न आती तो शख्स की जान भी जा सकती थी. दरअसल, हाथरस के जिला अस्पताल में गला कटा हुआ एक युवक गंभीर हालत में इलाज के लिए आया, मगर डॉक्टर ने घायल युवक का इलाज नहीं किया. इसके बाद खून से लथपथ गंभीर रूप से घायल पीड़ित ने 112 डायल करके अपने इलाज के लिए पुलिस बुलाई. जब 112 डायल पुलिस अस्पताल पहुंच गई तब जाकर घायल युवक का इलाज हो पाया.

दरअसल, थाना हाथरस क्षेत्र के गांव पुन्नेर निवासी महेश पुत्र भीमसेन को गांव के ही 2 लोगों ने गले पर दरांती मारकर घायल कर दिया था. गंभीर हालत में युवक को इलाज के लिए परिजन बांग्ला जिला अस्पताल लेकर आए. बांग्ला जिला अस्पताल की इमरजेंसी में तैनात डॉक्टर संतोष गुप्ता और मौजूद स्टाफ ने घायल युवक का इलाज नहीं किया तो मजबूरन घायल युवक ने 112 नंबर पर कॉल करके पुलिस बुला ली.

वहीं, सूचना पर पहुंची पुलिस ने अपनी मौजूदगी में घायल युवक का इलाज कराया. डॉक्टर ने घायल युवक को यह कह कर अस्पताल की इमरजेंसी में जाने से मना कर दिया था कि आप पहले मेडिकल कराने के लिए थाने से पुलिस की चिट्ठी लेकर आइए तब इलाज किया जाएगा.

वहीं, घायल युवक महेश कुमार ने बताया कि मेरी मेरी गर्दन कट गई थी. खून निकल रहा था, मेरी कोई भी सुनवाई नहीं कर रहा था. मैं काफी देर तक बांग्ला अस्पताल में डॉक्टरों से इलाज करने के लिए कहा मगर किसी ने भी मेरा इलाज नहीं किया. इसीलिए मैंने पुलिस को फोन करके बुलाया था. पुलिस आने के बाद मेरा इलाज किया गया.

Tags: Hathras news, Uttar pradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें