Home /News /uttar-pradesh /

दिल्ली हावड़ा ट्रैक पर कब्जा, कई घंटों की समझाइश के बाद माने अहेरिया समाज के लोग, 12 से ज्‍यादा ट्रेनें लेट

दिल्ली हावड़ा ट्रैक पर कब्जा, कई घंटों की समझाइश के बाद माने अहेरिया समाज के लोग, 12 से ज्‍यादा ट्रेनें लेट

अहेरिया समाज के लोगों ने न्यू हाथरस स्टेशन के निकट रेलवे ट्रैक पर किया कब्जा.

अहेरिया समाज के लोगों ने न्यू हाथरस स्टेशन के निकट रेलवे ट्रैक पर किया कब्जा.

Hathras News: अहेरिया समाज के लोगों ने न्यू हाथरस स्टेशन (New Hathras Station) के निकट रेलवे ट्रैक (Ralway Track) पर किया कब्जा. गुरुवार दोपहर 12 बजे से अहेरिया (Aheriya) समाज के लोगों ने कब्जे में लिया ट्रैक. दर्जन से अधिक सुपरफास्ट ट्रेनों को आसपास के स्टेशनों पर किया गया खड़ा. डीएम, एसपी के साथ रेलवे के कई अधिकारी भी पहुुंचे मौके पर नहीं मान रहे लोग.

अधिक पढ़ें ...

हाथरस. दिल्ली हावड़ा रेलवे ट्रैक समझाइश के बाद फिर से बहाल हो गया. दिन में 12 बजे से अहरिया समाज के लोगों ने रेलवे ट्रैक पर कब्जा कर रखा था जिससे रेलवे और पुलिस प्रशासन को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था. हाथरस स्टेशन के स्टेशन मास्टर जनक सिंह के अनुसार ग्रामीणों के इस रवैये के कारण 25 ट्रेनें प्रभावित हुईं.

कई थानों की फोर्स पहुंची
उत्तर मध्य रेलवे के हाथरस जंक्शन व पोरा स्टेशन के बीच डीएफसीसी के न्यू हाथरस स्टेशन के निकट गुरुवार दोपहर तक अहेरिया समाज के काफी लोग रेलवे ट्रैक पर पहुंच गए. उन्होंने चारों रेलवे ट्रैक पर कब्जा कर रेल यातायात को पूरी तरह ठप कर दिया. इसकी सूचना जैसे ही रेलवे अधिकारियों को मिली तो सभी ट्रेनों को आसपास के स्टेशनों पर रोक दिया गया. लोगों की संख्या अधिक होने के चलते जिला प्रशासन को सूचना देकर पुलिस फोर्स बुलाया गया. धीरे धीरे जनपद के कई थानो की फोर्स के साथ जनपद के तीन पुलिस क्षेत्राधिकारी, तीन उपजिलाधिकारी के साथ अपर पुलिस अधीक्षक व एडीएम भी मौके पर पहुंच गए.

रूट डायवर्ट करने की कवायद
अहेरिया समाज के नेताओं ने बताया कि उनके समाज को जातिगत सूचीबद्ध नहीं किया गया है. उन्हें किसी प्रकार का आरक्षण आदि की सुविधा नहीं मिल रही. पुलिस प्रशासन ने आन्दोलनकारियों को ट्रैक से हटाने के लिए भरसक कोशिश की लेकिन वह मानने को राजी नहीं हुए. बाद में डीएम रमेश रंजन व एसपी विनीत जायसवाल सहित रेलवे सुरक्षा बल के कई अधिकारी मौके पर पहुंच गए लेकिन कोई भी उन्हें मनाने में सफल नहीं हो सका है. खबर लिखे जाने तक आसपास के स्टेशनों पर गोमती, दूरंतो, महाबोधि, स्वतंत्रता संग्राम सैनानी, नन्दन कान्हा सहित एक दर्जन से अधिक ट्रेनों को विभिन्न स्टेशनों पर रोका गया है. इससे यात्रियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा. रेलवे प्रशासन अब इस ट्रैक की राजधानी आदि वीआईपी ट्रेनों को डायवर्ट किए जाने की तैयारी में जुटा हुआ है.

स्थानीय स्तर पर संभव नहीं निराकरण
जिलाधिकारी रमेश रंजन, हाथरस ने जानकारी देते हुए बताया आन्दोलनकारियों को समझाने की कोशिश जारी है. अहेरिया समाज के लोग खुद को जातिगत सूची में शामिल करने की मांग कर रहे हैं लेकिन उनकी इस समस्या का निराकरण स्थानीय स्तर पर नहीं हो सकता है.

Tags: Northern Railways, Trains affected

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर