दारुल उलूम देवबंद मदरसे में बन रहा था हेलीपैड!, सीएम तक पहुंची शिकायत

आदेश पहुंचते ही सहारनपुर प्रशासन में हड़कंप मच गया. तुरंत ही डीएम और एसएसपी मदरसे में पहुंच गए. दूसरी ओर मदरसा प्रशासन हेलीपैड बनने की बात से इंकार कर रहा है.

News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 3:31 PM IST
दारुल उलूम देवबंद मदरसे में बन रहा था हेलीपैड!, सीएम तक पहुंची शिकायत
प्रतीकात्मक फोटो- दारूल उलूम देवबंद में हेलीपैड बनाने की शिकायत सीएम योगी तक पहुंची है.
News18Hindi
Updated: August 5, 2019, 3:31 PM IST
मदरसा दारुल उलूम, देवबंद में एक बडी लाइब्रेरी का निर्माण किया जा रहा है. लाइब्रेरी खासी भव्य बनाई जा रही है. लेकिन इसी बीच यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ तक शिकायत पहुंची की बिना अनुमति के मदरसे में हेलीपैड का निर्माण कराया जा रहा है. हेलीपैड लाइब्रेरी की छत पर बनाया जा रहा है. सीएम आफिस से जांच के आदेश जारी हो गए. आदेश पहुंचते ही सहारनपुर प्रशासन में हड़कंप मच गया. तुरंत ही डीएम और एसएसपी मदरसे में पहुंच गए. दूसरी ओर मदरसा प्रशासन हेलीपैड बनने की बात से इंकार कर रहा है.

सीएम को ऐसे पहुंची हेलीपैड की शिकायत

कुछ समय पहले मदरसा प्रशासन परिसर में निर्माण कार्य करा था. निर्माण एक लाइब्रेरी का चल रहा था. मदरसा प्रशासन का कहना है कि क्योंकि निर्माण कार्य परिसर के अंदर हो रहा था इसलिए अनुमति की जरूरत नहीं समझी गई. लेकिन इसी दौरान देवबंद के कुछ संगठनों ने सीएम को यह शिकायत भेज दी कि मदरसे में लाइब्रेरी के साथ-साथ लाइब्रेरी की छत पर हेलीपैड का निर्माण भी कराया जा रहा है.

मदरसे में जांच को पहुंचे डीएम-एसएसपी

मदरसे में हेलीपैड बनाने की शिकायत सीएम आफिस पहुंची तो सहारनपुर प्रशासन में भी हड़कंप मच गया. सीएम आफिस से हेलीपैड की जांच के आदेश जारी हो गए. जांच आदेश आते ही डीएम और एसएसपी सहारनपुर मदरसे में पहुंच गए. लाइब्रेरी और वहां चल रहे निर्माण कार्य का जायजा लिया. मदरसे के मोहतमिम (वाइस चांसलर) से भी बात की.

फाइल फोटो- देवबंद मदरसा प्रशासन ने साफ कर दिया है कि वो लाइब्रेरी का निर्माण करा रहे हैं न की हेलीपैड का.


मदरसा प्रशासन ने हेलीपैड की शिकायत पर यह भेजा जवाब
Loading...

सीएम के आदेश पर हो रही जांच और कुछ संगठनों द्वारा की गई शिकायत के बाद सहारनपुर प्रशासन ने मदरसा प्रशासन से हेलीपैड निर्माण के मामले में जवाब मांगा था. सूत्रों की मानें तो मदरसा प्रशासन की ओर से जवाब भेज दिया गया है. मदरसे की ओर से कहा गया है कि न तो हमने हेलीपैड का निर्माण किया है और न ही लाइब्रेरी के डिजाइन में ऐसा कुछ तय था. हम मदरसा परिसर में कहीं भी हेलीपैड का निर्माण नहीं करा रहे हैं. यह जवाब मोहतमिम की ओर से भेजा गया है.

ये भी पढ़ें- देशभर में अपराधों की बाल की खाल निकालेंगे ये 3221 अफसर, दी गई खास ट्रेनिंग

फ्रांसिसी नागरिक सैटेलाइट फोन लेकर क्यों जा रहे हैं लेह, 2 महीने में दूसरा पकड़ा
First published: August 5, 2019, 3:31 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...