Home /News /uttar-pradesh /

hindu inmate also observing fast of ramadan with muslims in barabanki district jail

बाराबंकी जेल में कैदियों ने पेश की एकता की मिसाल, मुस्लिमों के साथ हिन्दू भी रख रहे रोज़ा

बाराबंकी जिला कारागार में मुस्लिम बंदियों के साथ एक दर्जन से ज्यादा हिंदू बंदी भी रमजान माह में रोजा रख रहे हैं.

बाराबंकी जिला कारागार में मुस्लिम बंदियों के साथ एक दर्जन से ज्यादा हिंदू बंदी भी रमजान माह में रोजा रख रहे हैं.

बाराबंकी जिला कारागार में मुस्लिम बंदियों के साथ एक दर्जन से ज्यादा हिंदू बंदी भी रमजान माह में रोजा रख रहे हैं. जेल प्रशासन की ओर से इन रोजेदारों को बकायदा इफ्तार भी कराया जाता है. मुस्लिम बंदियों के साथ हिंदू बंदी रोजा रखकर कौमी एकता की अनोखी मिसाल पेश कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

बाराबंकी. एक ओर मुस्लिम धर्मस्‍थल पर लाउडस्पीकर से अजान को लेकर बहस का दौर जारी है तो दूसरी तरफ हनुमान जन्मोत्सव के दौरान शोभा यात्रा पर पथराव होने से माहौल गर्म है. वहीं इस बीच लखनऊ से सटे बाराबंकी जिले की जेल में हिंदू-मुस्लिम एकता की अनोखी मिसाल देखने को मिल रही है. बाराबंकी जिला कारागार में मुस्लिम बंदियों के साथ एक दर्जन से ज्यादा हिंदू बंदी भी रमजान माह में रोजा रख रहे हैं. जेल प्रशासन की ओर से इन रोजेदारों को बकायदा इफ्तार भी कराया जाता है. मुस्लिम बंदियों के साथ हिंदू बंदी रोजा रखकर कौमी एकता की अनोखी मिसाल पेश कर रहे हैं.

आपको बता दें कि कुछ सालों पहले जिला कारागार बाराबंकी में निरुद्ध करीब दो सौ हिंदू बंदियों ने मुस्लिम बंदियों के साथ रोजा रखकर एक नई शुरुआत की थी. तब से हिंदू बंदी जेल में रोजा रखकर हिंदू-मुस्लिम एकता की अनोखी मिसाल कायम कर रहे हैं. बाराबंकी जिला कारागार में इस समय करीब 1400 कैदी हैं, जिनमें से इस बार रमजान के पवित्र माह में कुल 250 बंदी रोजा रख रहे हैं. इनमे से कई मुस्लिम बंदी ऐसे हैं जो नित्य रोजा रख रहे हैं. वहीं 15 हिंदू बंदी भी मुस्लिम बंदियों के साथ रोजा रख रहे हैं.

जेल प्रशासन की ओर से रोजा रखने वाले बंदियों को इफ्तार के समय खजूर, दूध, चाय समेत सभी जरूरी चीजें दी जा रही हैं. इसके अलावा जो बंदी लजीज व्यंजन खाना चाहते हैं, उन्हे व्यंजन भी उपलब्ध कराया जाता है. हिंदू कैदी भी मुस्लिम कैदियों की तरह दिन भर रोजा रखते हैं और उनके साथ तड़के सुबह 3 बजे उठकर सेहरी करते हैं.

बाराबंकी जिला कारागार के जेलर आलोक शुक्ला ने बताया कि जेल में इस तरह मुस्लिम-हिंदू भाईचारा देखकर हमें खुशी होती है. यहां करीब 250 बंदी ने इस साल रोजा रखा हुआ है. इसमें 15 हिंदू बंदी भी शामिल हैं। इन सभी के लिये एक वक्त के भोजन की व्यवस्था की गई है. इसके अलावा रोजेदारों के लिये जो-जो जरूरी है, उस सब की जेल में व्यवस्था की जा रही है. इसके अलावा रोजा अफ्तार के लिये भी कुछ खास व्यंजन भी बनवाया जाता है.

Tags: Barabanki News, Communal Tension, Ramzan

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर