Assembly Banner 2021

अगर रॉबर्ट वाड्रा राजनीत‍ि में आए तो कहां से लड़ेंगे चुनाव? यूपी की इन दो सीटों पर है नजर


उत्‍तर प्रदेश की राजनीति में प्र‍ियंका गांधी के बाद अब उनके पत‍ि रॉबर्ट वाड्रा की भी जल्‍द एंट्री हो सकती है.

उत्‍तर प्रदेश की राजनीति में प्र‍ियंका गांधी के बाद अब उनके पत‍ि रॉबर्ट वाड्रा की भी जल्‍द एंट्री हो सकती है.

राजस्‍थान की राजधानी जयपुर के प्रसिद्ध मोती डूंगरी गणेश जी के दरबार में जाकर रॉबर्ट वाड्रा ने शुक्रवार को पहले दर्शन किए और पूजा-अर्चना की. इसके बाद उन्‍होंने मीड‍िया से बातचीत के दौरान कहा क‍ि सब चाहते हैं वह राजनीति में आएं, लेकिन इसका भी सही समय आएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 26, 2021, 12:57 PM IST
  • Share this:
उत्‍तर प्रदेश की राजनीति में प्र‍ियंका गांधी के बाद अब उनके पत‍ि रॉबर्ट वाड्रा की भी जल्‍द एंट्री हो सकती है. ऐसा इसल‍िए कहा जा रहा है क्‍योंक‍ि खुद रॉबर्ट वाड्रा ने कहा है क‍ि मैं राजनीति में आऊंगा. आपको बता दें कि कांग्रेस महासच‍िव प्र‍ियंका गांधी पिछले काफी समय से उत्‍तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिए हैं और इन द‍िनों 2022 में होने वाले व‍िधानसभा चुनाव की तैयार‍ियों में लगी हुई हैं.

राजस्‍थान की राजधानी जयपुर के प्रसिद्ध मोती डूंगरी गणेश जी के दरबार में जाकर रॉबर्ट वाड्रा ने शुक्रवार को पहले दर्शन किए और पूजा-अर्चना की. इसके बाद उन्‍होंने मीड‍िया से बातचीत के दौरान कहा क‍ि सब चाहते हैं वह राजनीति में आएं, लेकिन इसका भी सही समय आएगा. वाड्रा ने कहा क‍ि कोई चाहता है कि मैं मुरादाबाद से आऊं और कोई चाहता है कि में गाजियाबाद से राजनीति में कदम रखूं.

प्रियंका यूपी व‍िधानसभा चुनावों की तैयार‍ियों में जुटी हैं
वहीं उत्‍तर प्रदेश के सियासी समीकरणों को भी ध्यान मे रखते हुए कांग्रेस के साफ्ट हिंदुत्व के एजेंडे के तहत ही प्रियंका गांधी सहारनपुर में शाकुभंरी देवी और संगम में स्नान के साथ वृदांवन में बांके बिहारी जैसे मठ-मंदिरो में दर्शन करते नजर आ रही है. साथ ही किसान बिरादारी से जुडे़ हिंदु-मुस्‍ल‍िम, सिक्ख, जाट-गुर्जर और निषादों से मुलाकात के बाद अब दलितों को भी साधने की कवायद मे जुट गई है.
कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गांधी आगामी 27 फरवरी को रविदास जयंती के मौके पर सुबह 11 बजे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंच रही है. प्रियंका गांधी रविदास जयंती के मौके पर वाराणसी स्थित गंगा किनारे उनके जन्मस्थान घासी टोला में बने संत शिरोमणि गुरू रविदास मंदिर जाएगी. जहां इस मौके पर लगने वाले मेले में शिरकत कर प्रियंका गांधी न सिर्फ संत रविदास के मंदिर में उनका दर्शन करेंगी. बल्कि इस मौके पर पहुचने वाले देश भर के दलित संतो से मुलाकात करके उनके साथ प्रसाद भी ग्रहण करेंगी. हालांकि ये कोई पहला मौका नही होगा कि जब प्रियंका गांधी रविदास मंदिर पहुचेंगी. इससे पहले भी प्रियंका गांधी वाराणसी स्थित इस रविदास मंदिर में जा चुकी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज