नोएडा: दहेज के लिए गर्भवती बहू को 2 दिन तक भूखा प्यासा रखने का आरोप, पुलिस ने बचाया

बरौला गांव के रहने वाले पवन चौहान की बेटी की शादी दिसंबर 2017 में छलेरा गांव के गौरव चौहान से हुई थी. थाना सेक्टर-39 में रिपोर्ट दर्ज कराई गई कि उनकी बेटी श्वेता को उसके ससुराल वालों ने दहेज के लिए हत्या की नीयत से अगवा कर लिया है.

भाषा
Updated: June 3, 2018, 5:55 PM IST
नोएडा: दहेज के लिए गर्भवती बहू को 2 दिन तक भूखा प्यासा रखने का आरोप, पुलिस ने बचाया
प्रतीकात्मक तस्वीर
भाषा
Updated: June 3, 2018, 5:55 PM IST
नोएडा में ससुराल वालों ने पांच माह की गर्भवती महिला को बेसमेंट में कथित तौर पर बंद कर दो दिन तक भूखा-प्यासा रखा. शनिवार को देर रात कार्रवाई करते हुए पुलिस ने महिला को छुड़ाया और गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस ने इस मामले में महिला के सास-ससुर और देवर को गिरफ्तार किया है. महिला का पति फरार है.

नगर पुलिस अधीक्षक अरुण कुमार सिंह ने यह बताया कि बरौला गांव के रहने वाले पवन चौहान की बेटी की शादी दिसंबर 2017 में छलेरा गांव के गौरव चौहान से हुई थी. सिंह ने बताया कि दो दिन पहले पवन चौहान ने थाना सेक्टर-39 में रिपोर्ट दर्ज कराई कि उनकी बेटी श्वेता को उसके ससुराल वालों ने दहेज के लिए हत्या की नीयत से अगवा कर लिया है. उन्होंने बताया कि पुलिस ने बीती रात महिला को छलेरा गांव में स्थित उसके पति की फैक्टरी के बेसमेंट से उसे छुड़ाया.

उन्होंने बताया कि महिला के हाथ-पैर तार से बंधे थे, तथा उसके मुंह पर टेप लगाया गया था. महिला बेहोशी की हालत में थी. गंभीर हालत में उसे नोएडा के कैलाश अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उसकी हालत नाजुक बनी हुई है. पुलिस ने महिला के ससुर चरण सिंह, सास बबली और देवर मोनी को गिरफ्तार कर लिया है. उसका पति फरार है.

ये भी पढ़ें: बहराइचः दहेज में नहीं मिली बाइक तो पत्नी को पीटकर कोमा में पहुंचाया
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर