पप्पू हत्याकांड: अवैध संबंधों के शक में बेरहमी से उतारा मौत के घाट, महिला समेत 4 गिरफ्तार

जौनपुर में पप्पू हत्याकांड में पुलिस ने महिला सहित 4 को गिरफ्तार किया है.

जौनपुर (Jaunpur) के एसपी देहात त्रिभुवन सिंह ने बताया कि रबीन्द्र कुमार मौर्य उर्फ पप्पू हत्याकांड केस में मुख्य आरोपी भइयालाल ने पूछताछ में हत्या की पूरी घटना की कहानी बयान की है. मामले में महिला समेत 4 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है.

  • Share this:
    मनोज पटेल

    जौनपुर. उत्तर प्रदेश के जौनपुर (Jaunpur) में सरायख्वाजा थाना के मैनीपुर हैदरपुर गांव मे पप्पू हत्याकांड (Pappu Murder Case) का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. पुलिस ने अवैध संबंधो के शक मे हत्या किये जाने के आरोप में महिला समेत 4 लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया है. पुलिस का कहना है कि पप्पू की हत्या की योजना बनाकर महिला ने उसे घर बुलाया और हत्या करवा दी.

    18 अगस्त को पप्पू की सिर पर रॉड से हमला के बाद गमछे से गला कसकर हत्या कर दी गई थी. इसके बाद शव को पास के कुएं मे फेंक दिया गया था. जौनपुर के एसपी देहात त्रिभुवन सिंह ने बताया गया कि सरायख्वाजा पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछताछ में अभियुक्त भइयालाल ने बताया कि वह अक्सर मैनीपुर गांव की संध्या उर्फ संजना पत्नी देवेन्द्र कुमार मौर्या के घर पर जाया करता था. पति-पत्नी में पटती नहीं थी. उसका संबंध संध्या से हो गया था इसके बाद वह दोनों पति-पत्नी की तरह रहने लगे.

    संध्या से पप्पू की करीबी का शक 

    रबीन्द्र कुमार मौर्य उर्फ पप्पू, जो हैदरपुर का रहने वाला था, वह फेरी कर ज्वैलरी बेचता था. वो भी पायल, बिछिया आदि बेचने के लिए संध्या के घर आता जाता था और काफी देर तक रहता था. इन दोनों की हरकत से मुझे लगा कि संध्या का प्रेम सम्बन्ध रबीन्द्र कुमार उर्फ पप्पू से भी हो गया है. भइयालाल ने बताया कि इसके कारण उसने पप्पू को मारने की योजना बनाई.

    भइयालाल ने बताया कि 18 अगस्त को संध्या को उसके घर के बगल मे तेरही में जाना था. वह संध्या को तीनों बच्चों के साथ मोटरसाइकिल पर अपने घर लाया, जहां वह तैयार होकर दिलीप विश्वकर्मा के घर तेरही में शामिल हुई. भइयालाल के अनुसार शाम को वह, सूरज और अपने बड़े भाई सुजीत कुमार के साथ शराब पीया और पप्पू का इंतजार करने लगे. रात करीब 10 बजे पप्पू अपनी साइकिल से लाल दरवाजे की तरफ से आया.

    हत्या की ये थी प्लानिंग

    भइयालाल ने बताया कि इसके बाद उसने पप्पू को बुलाकर संध्या के मकान में ले गया, जहां अपने योजना के अनुसार वह और सुजीत कुमार पप्पू से कमरे में बात करने लगे. इसी दौरान कमरे में रखी एक लोहे की रॉड से सूरज कुमार ने रबीन्द्र कुमार मौर्य उर्फ पप्पू के सिर पर पीछे से जोर से मारा, जिससे वह चकराकर गिर गया. उसके बाद उन्होंने गमछे से उसके गले में फंदा डालकर हत्या की और शव को घर के पीछे वाले कमरे रख दिए. कुछ देर बाद उन्होंने शव को उठाकर घर से करीब 100 मीटर पीछे स्थित कुएं में फेक दिया.

    गिरफ्तार हत्या के आरोप मे अभियुक्त

    1. भईयालाल पुत्र सियाराम निवासी रामपुर डेरवा थाना सरायख्वाजा जौनपुर

    2. सूरज कश्यप पुत्र स्वर्गीय शंकर निवासी रामपुर डेरवा

    3. सुजीत कुमार पुत्र सियाराम निवासी रामपुरडेरवा थाना सरायख्वाजा जौनपुर

    4. संध्या उर्फ संजना उर्फ लीलावती पत्नी देवेन्द्र कुमार मौर्य उर्फ बच्चा निवासी मैनीपुर थाना सरायख्वाजा जौनपुर.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.