जौनपुर: अस्पताल के बाहर तड़प रहे मरीजों की मदद करने वाले युवक पर CMS ने दर्ज कराई FIR

जौनपुर के जिला अस्पताल के बाहर मरीजों की मदद करने वाले युवक पर एफआईआर दर्ज कराई गई है.

जौनपुर के जिला अस्पताल के बाहर मरीजों की मदद करने वाले युवक पर एफआईआर दर्ज कराई गई है.

Jaunpur News: जौनपुर के जिला अस्पताल में 2 दिन पहले कैंपस के फर्श पर गंभीर मरीजों को ऑक्सीजन का अभाव था. न तो बेड, न समुचित इलाज मिल रहा था. इलाके के एक युवक विक्की ने व्यक्तिगत प्रयास से सिलेंडर मंगाया और लोगों की जान बचाने में मदद की. इसका परिणाम यह रहा अगले दिन अस्पताल के सीएमएस ने युवक के खिलाफ केस दर्ज करा दिया.

  • Share this:
मनोज कुमार

जौनपुर. उत्तर प्रदेश के जौनपुर (Jaunpur) में ऐसा मामला सामने आया है, जो सरकारी अफसरों की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगाता है. यहां तड़पते मरीज की मदद करने पर एक युवक पर ही मुकदमा (FIR) हो गया है. जी हां, स्वास्थ्य विभाग की तरफ से लापरवाही की गई और युवक पर केस दर्ज करा दिया गया. युवक का सिर्फ यही गुनाह है कि उसने बीमार मरीजो को मदद की. जौनपुर स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से मरीजो को ऑक्सीजन नहीं मिल पा रही है. अस्पताल के फर्श पर लेटे मरीजों को तड़पते देख एक युवक ने मदद को हाथ बढ़ाना उसी पर भारी पड़ा गया.

बता दें दो दिन पहले फर्श पर तड़पते मरीज का वीडियो वायरल हुआ था. इस मामले में मरीजों को अपने पास से ऑक्सीजन सिलिंडर मुहैया कराने वाले विक्की समेत तीन लोगों पर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया है. अस्पताल के सीएमएस डॉ अनिल कुमार ने ये केस दर्ज कराया है.

जौनपुर नगर कोतवाली प्रभारी तारावती यादव ने बताया कि जिला अस्पताल के सीएमएस डॉक्टर अनिल कुमार की तहरीर पर युवक के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. धारा 188, 144, महामारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जांच की जा रही है.
व्यक्तिगत प्रयास से ऑक्सीजन सिलिंडर मंगाकर दी थी राहत

आपको बता दें कि जिला अस्पताल में 2 दिन पहले अस्पताल कैंपस के फर्श पर गंभीर मरीजों को ऑक्सीजन के अभाव था. न तो बेड मिल रहा पा रहा था, न समुचित इलाज मिल रहा था. और ना ही चिकित्सक मिल रहे थे. इलाके के रहने वाले एक युवक विक्की ने लोगों की जान खतरे में देख व्यक्तिगत प्रयास से सिलेंडर मंगाया और लोगों की जान बचाने में मदद की. इसका परिणाम यह रहा अगले दिन अस्पताल के डॉ अधिकारी ने युवक के खिलाफ केस दर्ज करा दिया. ये घटना जौनपुर स्वास्थ्य महकमे सहित जिले में चर्चा का विषय बनी हुई है. संदेश ये जा रहा है कि अगर कोई मदद करेगा तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज