Home /News /uttar-pradesh /

मां की 500 रुपए पेंशन और भाई की दिहाड़ी से घर चलाना था मुश्किल, 3 सगी बहनों ने कर ली खुदकुशी

मां की 500 रुपए पेंशन और भाई की दिहाड़ी से घर चलाना था मुश्किल, 3 सगी बहनों ने कर ली खुदकुशी

Jaunpur News Update: आर्थिक तंगी ने ली तीन बहनों की जान, ट्रेन के आगे कूदकर मौत को लगाया गले.

Jaunpur News Update: आर्थिक तंगी ने ली तीन बहनों की जान, ट्रेन के आगे कूदकर मौत को लगाया गले.

Jaunpur News Update: उत्तर प्रदेश के जौनपुर में आर्थिक तंगी के कारण तीन सगी बहनों ने मौत को गले लगा लिया. इस खबर के सामने आने के बाद से परिवार सदमे में हैं. वहीं रेलवे ट्रैक पर तीन शवों की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. पुलिस के मुताबिक, आत्महत्या करने वाली बहनों में एक की उम्र 18 साल और बाकी दोनों की 16 और 14 साल है.

अधिक पढ़ें ...

जौनपुर. उत्तर प्रदेश के जौनपुर में आर्थिक तंगी के कारण तीन बहनों ने ट्रेन के सामने कूदकर अपनी जान दे दी. इस खबर की सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस की टीम पहुंची. पुलिस ने तीनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. रेलवे लाइन पर एक साथ तीन बहनों के शवों को देखने के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई. बताया जा रहा है कि तीनों ने आत्महत्या (Three sister commits suicide) आधी रात के करीब की है. वहीं इस मामले में पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई हैं. बताया रहा है कि पूरा परिवार है पैसों की किल्लत से जूझ रहा था.

जानकारी के मुताबिक थाना बदलापुर अंतर्गत ग्राम फत्तूपुर के पास  हरिपालगंज व केशवराय रेलवे स्टेशनों के बीच अप रेलवे लाइन पर कोलकाता-नांगल एक्सप्रेस ट्रेन के आगे 3 लड़कियों द्वारा आत्महत्या करने की सूचना मिली थी. स्थानीय पुलिस द्वारा जांच के दौरान घटना स्थल से प्राप्त मोबाइल से बात करने पर इनके बारे में जानकारी हासिल हुई थी. इसके बाद ही पता चला कि तीनों बहन अहिरौली ग्राम की निवासी हैं.

इसे भी पढ़ें- UP Crime : जमीनी विवाद में खूनी संघर्ष, दो सगी बहनों की धारदार हथियार से निर्मम हत्या, इलाके में सनसनी

पुलिस द्वारा दी गई सूचना के मुताबिक, आत्महत्या करने वाली तीनों बहन काफी समय से आर्थिक तंगी का सामना कर रहे थे. परिवार में उनके अलावा मां, भाई और दो बहन भी हैं. इसमें एक बहन की शादी हो चुकी है और दूसरी अपने फूफा के घर में रहती हैं. वहीं भाई दिहाड़ी मजदूरी कर के परिवार का भरण-पोषण करता है. आत्महत्या करने वाली बहनों का नाम  प्रीति (18 वर्ष), आरती (16 वर्ष), काजल (14) है. बताया जा रहा है इनके पिता राजेन्द्र गौतम की मौत पहले ही हो चुकी थी और मां विकलांग हैं, जिन्हें 500 रुपये पेंशन के रूप मिलता था. पेंशन और भाई की दिहाड़ी से ही घर चलता था. घर की आर्थिक तंगी की वजह से तीनों बहनों ने रेलवे पटरी पर ट्रेन से कटकर अपनी जान दे दी.

Tags: Suicide Case, Up news in hindi

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर