जौनपुर में 13 पुलिसकर्मियों पर दर्ज हुई FIR, ये रही वजह
Jaunpur News in Hindi

जौनपुर में 13 पुलिसकर्मियों पर दर्ज हुई FIR, ये रही वजह
जौनपुर में 13 पुलिसकर्मियों पर दर्ज हुई FIR (फाइल फोटो)

जर्जर हो चुके सरकारी आवास खाली करने के लिए बार-बार निर्देशित किए जाने और नोटिस जारी करने के बाद भी आवास खाली नहीं किए. राजकीय संपत्ति को क्षति पहुंचाने का इनका यह कृत्य आपराधिक प्रवृत्ति की श्रेणी में आता है.

  • Share this:
जौनपुर. यूपी के जौनपुर (Jaunpur) में आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज (FIR) करके उन्हें जेल भेजने वाले 13 पुलिसकर्मियों खुद कानून के शिकंजे में आ गए है. ये पुलिसकर्मियों विभागीय आवास पर कब्ज़ा करने का जुर्म किया है. इन पर राजकीय संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया गया है. इन सभी आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ शहर कोतवाली तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है. फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है.

दरअसल पवन कुमार उपाध्याय ने तहरीर दी कि कोतवाली परिसर व पुलिस चौकी भंडारी परिसर में बने सरकारी आवास में उप निरीक्षक इंद्र बहादुर सिंह वर्तमान तैनाती प्रतापगढ़, हेड कांस्टेबलगण सेराज अहमद वर्तमान तैनाती बलिया, इंद्रदेव मिश्रा, ओम प्रकाश पाल, बालेंद्र यादव, कांस्टेबलगण राज किशोर यादव वर्तमान तैनाती वाराणसी, सीताराम पांडेय वर्तमान तैनाती प्रयागराज, संतोष वर्मा वर्तमान तैनाती मऊ, माया शंकर सिंह वर्तमान तैनाती बलिया, अनिल सिंह वर्तमान तैनाती आजमगढ़, हेड कांस्टेबल रमा शंकर राम वर्तमान तैनाती गाजीपुर, कमलेश यादव वर्तमान तैनाती जीआरपी अकबरपुर, वीरेंद्र यादव वर्तमान तैनाती अयोध्या जनपद से स्थानांतरण के बाद भी अनधिकृत रूप से कब्जा किए हुए हैं.

जर्जर हो चुके सरकारी आवास खाली करने के लिए बार-बार निर्देशित किए जाने और नोटिस जारी करने के बाद भी आवास खाली नहीं किए. राजकीय संपत्ति को क्षति पहुंचाने का इनका यह कृत्य आपराधिक प्रवृत्ति की श्रेणी में आता है. मुकदमा की विवेचना एसआई गोविद देव मिश्र को सौंपी गई है.



इनपुट- मनोज पटेल
ये भी पढ़ें:

Trump का आगरा दौरा: सुबह 10:30 बजे के बाद ताजमहल में पर्यटकों की होगी 'नो एंट्री'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading