बाहुबली नेता धनंजय सिंह जेल से रिहा, जौनपुर की मल्हनी सीट से विधानसभा उपचुनाव लड़ने की जताई इच्छा
Jaunpur News in Hindi

बाहुबली नेता धनंजय सिंह जेल से रिहा, जौनपुर की मल्हनी सीट से विधानसभा उपचुनाव लड़ने की जताई इच्छा
जौनपुर के पूर्व एमपी धनंजय सिंह इलाहाबाद हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद जेल से रिहा हो गए हैं. (फाइल फोटो)

पूर्वांचल के बाहुबली नेता धनंजय सिंह (Dhananjay Singh) अपहरण और धमकी मामले में जमानत मिलने के बाद जेल से रिहा हो गए हैं.

  • Share this:
मनोज सिंह पटेल

जौनपुर. अपहरण (Kidnappng) और धमकी (Threat) देने के आरोप में जेल में बंद बाहुबली पूर्व सांसद धनंजय सिंह (Former MP Dhananjay Singh) जेल से रिहा हो गए हैं. उनकी रिहाई होते ही उनके समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ पड़ी. जेल से बाहर आते ही धनंजय सिंह ने मीडिया से बातचीत में कहा कि जनता का पैसा लूटने वाली संस्था का मैंने विरोध किया था, जिस पर उस संस्था ने प्रशासन को गुमराह करके मुझे गलत मुकदमे फंसाया है. इस दौरान धनंजय ने मल्हनी सीट से विधानसभा उपचुनाव लड़ने की इच्छा भी जाहिर की, साथ ही कहा कि फैसला पार्टी करेगी.

10 मई को हुए थे गिरफ्तार



बता दें 10 मई 2020 को लाइन बाजार थाने में नमामि गंगे के प्रोजेक्ट मैनेजर अभिनव सिंघल ने पूर्व सांसद धनंजय सिंह व संतोष विक्रम सिंह के खिलाफ अपहरण और हत्या की धमकी देने का मुकदमा दर्ज कराया था. प्रोजेक्ट मैनेजर अभिनव सिंघल का आरोप लगाया था कि धनजंय सिंह ने वहां पर प्रोजेक्ट की साइट पर उनके गुर्गे को ही गिट्टी तथा बालू आपूर्ति का काम देने का दवाब डाला था. धमकी दी थी कि ऐसा न करने पर अपहरण कर उसकी हत्या कर दी जाएगी.
मामले में शिकायत मिलने के फौरन बाद पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया और उसी रात धनंजय सिंह को नगर के कालीकुत्ती मोहल्ले से उनके आवास से गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था.

गुरूवार को धनंजय सिंह को हाईकोर्ट से जमानत मिलने के बाद जेल से रिहा कर दिया गया. उनके समर्थन वाहनों के काफिले के साथ दोपहर से ही जेल पर डट गए थे. जेल से बाहर आते ही समर्थको में खुशी की लहर दौड़ पड़ी.

नमामि गंगे प्रोजेक्ट के काम में जमकर हो रही धांधली: धनंजय

मीडिया से बातचीत करते हुए धनंजय सिंह ने अपने आपको बेकसूर बताते हुए कहा कि जिले नामामि गंगे प्रोजेक्ट द्वारा कराये जा रहे कार्यो में भारी धांधली की जा रही है. जनता का पैसा लूटने वाली कम्पनी ने अधिकारियों को गुमराह करके मुझे जेल भेजा गया है, जबकि इसी मामले में यहां की जनता और समाजसेवी लोग पहले से उठाते रहे हैं. मेरे जेल जाने से पहले वही अधिकारी कोर्ट में हलफनामा देते हैं कि सब काम ठीक चल रहा है, जबकि मेरे जेल जाने के ठीक 3 दिन बाद वही अधिकारी अपने अधिकारी को पत्र लिखते हैं कि काम सही नहीं चल रहा है.

मेरी पार्टी मुझे चुनाव लड़ाएगी तो मैं चुनाव लडूंगा

वहीं मल्हनी उप विधानसभा चुनाव लड़ने के सवाल पर धनंजय सिंह कहा कि मेरी पार्टी मुझे चुनाव लड़ाएगी तो मैं चुनाव लडूंगा. उन्होंने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष संजय निषाद ने प्रेस के सामने कहा कि यह सीट भाजपा-निषादराज गठबंधन में दी जाए. धनंजय ने यह भी कहा कि लोकसभा चुनाव में जौनपुर सीट बीजेपी के खाते में जाने के कारण मैंने चुनाव नहीं लड़ा था. लेकिन विधानसभा चुनाव में मल्हनी सीट पर निषादराज पार्टी रनरअप रही है इसलिए यहां मेरी पार्टी की दावेदारी बनती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज