अस्पताल में फैली गंदगी की शिकायत करना पड़ा भारी, स्वास्‍थ्य कर्मी ने Corona पीड़ित को डंडे से पीटा, देखें Video

जौनपुर में कोरोना पीड़ित मरीज की पिटाई का वीडियो वायरल.
जौनपुर में कोरोना पीड़ित मरीज की पिटाई का वीडियो वायरल.

जौनपुर के जिला महिला चिकित्सालय (District Women's Hospital) में भर्ती कोरोना मरीज ने अस्‍पताल में फैली गंदगी की शिकायत अधिकारियों से कर दी. इसके बाद स्वास्थ कर्मी ने मरीज की पिटाई कर दी, जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है.

  • Share this:
जौनपुर. उत्‍तर प्रदेश के जौनपुर के जिला महिला चिकित्सालय (District Women's Hospital) के स्पेशल एल 2 में कोरोना मरीज को पीटने का वीडियो वायरल होने से हड़कंप मच गया है. दरअसल, उपचार के लिए भर्ती मरीज को उच्चाधिकारी से स्वास्थ कर्मियों की शिकायत करना महंगा पड़ गया और स्वास्थ कर्मी ने मरीज पर डंडे (सफाई में काम आने वाले वाइपर) से हमला कर दिया. इसके बाद मरीज ने भी स्वास्थ कर्मी पर पलटवार कर दिया, लेकिन अन्‍य लोगों ने उसे रोक लिया.

वीडियो वायरल होने के बाद मचा हड़कंप
यही नहीं, जिला महिला चिकित्सालय के स्पेशल एल 2 में स्वास्थ कर्मी द्वारा कोरोना मरीज की पिटाई का वीडियो वायरल होने के बाद मुख्य चिकित्साधिकारी राकेश कुमार, नगर मजिस्ट्रेट सहदेव मिश्रा और नगर थाना प्रभारी संजीव कुमार मिश्रा जांच करने जिला महिला चिकित्सालय स्पेशल एल 2 पहुंचे और पूरे मामले की छानबीन की.

भाजपा से संबंधित है कोरोना मरीज
जानकारी के मुताबिक, शाहगंज निवासी व भाजपा युवा मोर्चा काशी प्रान्त के क्षेत्रीय मंत्री पवन पाल कोरोना से संक्रमित होने पर हाईटेक स्पेशल एल-2 में भर्ती हैं. मंगलवार को चिकित्सालय की दुर्व्यवस्था की शिकायत मुख्य चिकित्साधिकारी राकेश कुमार और मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डॉ. ए.के. अग्रवाल और कंट्रोल रूम से कर दी. इसके अलावा जिलाधिकारी को चिकित्सालय में भर्ती लोगों के साथ दुर्व्यवहार व दुर्व्यवस्था की जानकारी देने की कोशिश की गई थी, लेकिन जिलाधिकारी से बात नहीं हुई. इसके बाद भाजपा नेता ने वीडियो वायरल कर दिया, जिसमें शौचालय का पानी भर्ती मरीजों के रूम तक आता दिखा. साथ ही एक ही कर्मचारी भोजन लाता है और वही सैंपल भी लेता है. यही नहीं, वही कर्मचारी साफ सफाई भी करता है. वहीं, पवन ने आरोप लगाया कि स्पेशल एल- 2 चिकित्सालय में व्यवस्था के कमियों को उजागर करना यहां के कर्मचारियों व चिकित्सक को नागवार गुजरा जिस पर सभी ने योजनाबद्ध तरीके से उसकी पिटाई कर दी. इसके बाद कई अधिकारी मौके पर पहुंचे और मामले की पड़ताल की.



बहरहाल, महिला चिकित्सालय के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक ने बताया कि मारपीट की घटना नहीं हुई है केवल मरीज और कर्मचारी में पानी को लेकर सिर्फ बहस हुई है और पानी की जो समस्या थी उसे मैंने सही करवा दिया हैं. हालांकि वीडियो में स्वास्थ कर्मी मरीज पर हमला करते हुए साफ दिखाई दे रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज