Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    जौनपुर: बुआ के बेटे संग Love, सेक्स और धोखे की शिकार युवती ने की आत्महत्या, पंचायत ने नहीं दी थी शादी की इजाजत

    एसपी (देहात) त्रिभुवन सिंह ने इस मामले की पूरी जानकारी दी.
    एसपी (देहात) त्रिभुवन सिंह ने इस मामले की पूरी जानकारी दी.

    जौनपुर के सिंगरामऊ थाना क्षेत्र के हरपालगंज रेलवे स्टेशन के पास गुरुवार की देर शाम ट्रेन से कटी एक अज्ञात युवती का शव पाया गया था. छानबीन के बाद पूरा मामला सामने आया है.

    • Share this:
    जौनपुर. प्यार में धोखा खाई एक युवती ने ट्रेन के सामने कूदकर आत्महत्या (Suicide) कर ली. खुदकुशी से पहले युवती का एक वीडियो सोशल मिडिया पर बड़ी तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें युवती अपने प्रेमी व उसके परिवार वालों पर जान से मारने की धमकी देने का आरोप लगाया है. प्रेमी द्वारा धोखा देने पर युवती ने न्याय के लिए थाने का चक्कर भी लगाया था, लेकिन वहां भी उसकी सुनवाई नहीं हुई तो मौत को गले लगा लिया. जानकारी के मुताबिक, युवती का अपनी सगी बुआ के बेटे से प्रेम संबंध था.

    जौनपुर के सिंगरामऊ थाना क्षेत्र के हरपालगंज रेलवे स्टेशन के पास गुरुवार की देर शाम ट्रेन से कटी एक अज्ञात युवती का शव पाया गया था. पुलिस की जांच पड़ताल में मृत युवती की शिनाख्त महराजगंज थाना क्षेत्र गुड़िया (काल्पनिक नाम) के रूप हुई. शिनाख्त होते ही उसके घर में कोहराम मच गया. आत्महत्या के पीछे का मामला जो सामने आया है, वह चौंकाने वाला है. मौत से 10 दिन पूर्व का एक वीडियो सोशल मीडिया में तेजी से वायरल है. वीडियो में गुड़िया ने बताया कि वह तीन साल से सिंगरामऊ थाना क्षेत्र के रहने वाले अपने बुआ के बेटे सूरज से प्यार करती थी. दोनों घर से भागकर तीन माह साथ भी रहे. इस दौरान कई बार दोनों के बीच शारीरिक संबंध भी बने. उसके बाद प्रेमी ने उसे बदलापुर कस्बे में छोड़कर फरार हो गया. युवती ने कई बार फोन पर उससे शादी करने का दबाव बनाया, लेकिन वह अपनाने को तैयार नहीं हुआ और जान से मारने की धमकी देता रहा.

    दो महीने तक लगाया थानों का चक्कर
    थक हारकर न्याय पाने के लिए वह सिंगरामऊ थाने गयी तो उसे यह मामला बदलापुर थाने का होने का बताकर बदलापुर भेज दिया. यहां पर जब वह आवेदन लेकर पहुंची तो प्रेमी का घर सिंगरामऊ में होने का हवाला देकर पुनः सिंगरामऊ थाने पर भेज दिया गयााा. इसी तरह वह न्याय पाने के लिए दो माह तक जौनपुर के दोनों थानों का चक्कर काटती रही, लेकिन न्याय नहीं मिला. इसी बीच पीड़िता ने एक ऑडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल किया है, जिसमें उसकी और किसी दारोगा से बातचीत हो रही है. इसमें दारोगा उसे कड़ी फटकार लगाते हुए अपशब्दों का प्रयोग किया तो उसने भी उसी लहजे में जवाब देते हुए पुलिस को फटकार लगा रही है.
    पंचायत ने भी कहा था- दोनों की शादी नहीं हो सकती


    मामले में एसपी (देहात) त्रिभुवन सिंह ने बताया कि मृतक महराजगंज थाना क्षेत्र की रहने वाली थी. उसकी सगी बुआ के लड़के से लव अफेयर था. वह उससे शादी करना चाहती थी, लेकिन घर वाले रिश्ते की वजह से शादी नहीं करना चाहते थे. इसको लेकर पंचायत भी हुई थी. पंचायत में शादी नहीं हो सकती ऐसा फैसला किया गया था. इसी वजह से उसने आत्महत्या कर ली. इस मामले में तीन लोगो के खिलाफ 306 का मुकदमा दर्ज करके उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया है. मृतका की शिकायत पर मुकदमा दर्ज न होने के सवाल पर उन्होंने कहा कि लड़की ने कोई यौन शोषण का आरोप नहीं लगाया था. वह शादी करवाने के लिए कह रही थी, लेकिन विधिक शादी नहीं हो सकती थी तो इसमें कोई मुकदमा दर्ज नहीं हो सकता था.

    (रिपोर्ट- मनोज सिंह पटेल) 
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज