जौनपुर: अब मुख्तार अंसारी गैंग के गुर्गे की 5 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क
Jaunpur News in Hindi

जौनपुर: अब मुख्तार अंसारी गैंग के गुर्गे की 5 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क
मुख़्तार अंसारी गैंग के गुर्गे की करोड़ों की संपत्ति कुर्क

पिछले सप्ताह कोतवाली थाना के जोगियापुर से पुलिस ने रविन्द्र निषाद को 12 लाख के अवैध मछली के साथ पकड़ा था. पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला था कि रविन्द्र निषाद मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) का गुर्गा है और अवैध मछली कारोबार से अर्जित धन से उसकी फंडिंग करता है.

  • Share this:
जौनपुर. जेल में बंद माफिया डॉन मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) के वित्‍तीय तंत्र पर लगातार पुलिस और प्रशासन कड़ी कार्रवाई कर रही है. इसी क्रम में उसका खास गुर्गा और जौनपुर का मछली माफिया रविन्द्र निषाद (Ravindra Nishad) के करीब 5 करोड़ रुपये की संपत्ति पर प्रशासन ने कुर्की की कार्रवाई की है. जौनपुर में अवैध रूप से मछली कारोबार का भंडाफोड़ करते हुए पुलिस ने यह कार्रवाई की है. बता दें कि पिछले सप्ताह कोतवाली थाना के जोगियापुर से पुलिस ने रविन्द्र निषाद को 12 लाख के अवैध मछली के साथ पकड़ा था. पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला था कि रविन्द्र निषाद मुख्तार अंसारी का गुर्गा है और अवैध मछली कारोबार से अर्जित धन से उसकी फंडिंग करता है.

इससे पहले पुलिस ने शहर में उसके करोड़ों की लागत से बन रहे शापिंग माल समेत दो बड़ी बिल्डिंग, बैंक खाता, पिकअप, बाइक समेत करोड़ रुपये की प्रापर्टी को जब्त किया था. अब जिलाधिकारी दिनेश कुमार की संस्तुति रिपोर्ट पर राजस्व विभाग के साथ मिलकर पुलिस अधिकारी संजय कुमार ने उसकी चल-अचल संपत्ति को कुर्क कर लिया है.

3 जुलाई को किया गया था गिरफ्तार
बता दें कि कोतवाली पुलिस ने 3 जुलाई की रात में छापेमारी कर जोगियापुर से एक ट्रक अवैध मछली के साथ रवींद्र निषाद और उसके साथी आंध्र प्रदेश निवासी वी नारायण को गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस की पूछताछ में कई अहम खुलासे किये. बीते 25 साल से जौनपुर में मछली का अवैध कारोबार चोरी छिपे जारी था. प्रतिबंधित मछली का कारोबार जौनपुर जनपद में फल-फूल रहा था. पुलिस ने मांगूर, पियासी और रोहू मछली से भरे ट्रक को पकड़ा था. गिरफ्तार रविन्द्र कुमार निषाद उर्फ पप्पू का अवैध कारोबार मुख्तार अंसारी के दम पर चलता था. मछली से आने वाले पैसों का मुख्तार अंसारी के गुर्गों को सुविधाएं देने में इस्तेमाल किया जाता था. मुख्तार अंसारी के सह पर 25 साल से बिना लाइसेंस का यह अवैध कारोबार चलाया जा रहा था.
एसपी अशोक कुमार ने बताया कि मछली माफिया रवींद्र निषाद ने मुख्तार अंसारी के साथ मिलकर मछली के अवैध कारोबार से अर्जित की है. उसी संपत्ति को पुलिस ने जब्त किया है. इसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेज दी गई है. पुलिस की जांच में पता चला है कि उसने यह संपत्ति अपने भाई अरविंद कुमार निषाद, पत्नी गुंजा निषाद और खुद के नाम से अर्जित की है.



(रिपोर्ट:मनोज सिंह पटेल)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज