• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • पत्नी की हत्या के आरोप में पति को आजीवन कारावास

पत्नी की हत्या के आरोप में पति को आजीवन कारावास

जौनपुर के मड़ियाहूं थाना क्षेत्र के सेउर गांव में हुई विवाहिता की हत्या मामले में न्यायालय ने अपना फैसला सुनाते हुए पति को हत्या का दोषी करार देते हुए अपर सत्र न्यायाधीश चतुर्थ बुधिराम यादव ने आजीवन कारावास और बाइस हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाया है. विवाहिता की हत्या बीतें साल 2011 में दहेज के लिए की गई थी.

जौनपुर के मड़ियाहूं थाना क्षेत्र के सेउर गांव में हुई विवाहिता की हत्या मामले में न्यायालय ने अपना फैसला सुनाते हुए पति को हत्या का दोषी करार देते हुए अपर सत्र न्यायाधीश चतुर्थ बुधिराम यादव ने आजीवन कारावास और बाइस हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाया है. विवाहिता की हत्या बीतें साल 2011 में दहेज के लिए की गई थी.

जौनपुर के मड़ियाहूं थाना क्षेत्र के सेउर गांव में हुई विवाहिता की हत्या मामले में न्यायालय ने अपना फैसला सुनाते हुए पति को हत्या का दोषी करार देते हुए अपर सत्र न्यायाधीश चतुर्थ बुधिराम यादव ने आजीवन कारावास और बाइस हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाया है. विवाहिता की हत्या बीतें साल 2011 में दहेज के लिए की गई थी.

  • Share this:
जौनपुर के मड़ियाहूं थाना क्षेत्र के सेउर गांव में हुई विवाहिता की हत्या मामले में न्यायालय ने अपना फैसला सुनाते हुए पति को हत्या का दोषी करार देते हुए अपर सत्र न्यायाधीश चतुर्थ बुधिराम यादव ने आजीवन कारावास और बाइस हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाया है. विवाहिता की हत्या बीतें साल 2011 में दहेज के लिए की गई थी.

सेउर गांव के रविशंकर ने अपनी बेटी खुशबू की शादी संतरविदास नगर के शिवसागर से की थी. शादी के बाद से ही शिवसागर खुशबू को दहेज के लिए प्रताड़ित करता था. दहेज न लाने पर उसने खुशबू को घर से निकला दिया गया था. इसके बाद खुशबू मायके आकर रहने लगी.बीतें 9 जुलाई 2011 को शिवसागर खुशबू को अपने साथ घर ले गया,लेकिन 11 जुलाई को ही खुशबू की लाश मायके से कुछ दूर पाई गई.

हत्या के बाद खुशबू के पिता रविशंकर ने शिवसागर पर हत्या का मामला दर्ज कराया. पुलिस ने शिवसागर को गिरफ्तार कर जांच की तो हत्या में इस्तेमाल हुआ चाकू बरामद हो गया.करीब साढ़े चार साल बाद अपर सत्र न्यायाधीश ने आजीवन कारावास और बाइस हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज