काशी के मणिकर्णिका घाट पर हुआ माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी का अंतिम संस्कार

मुन्ना बजरंगी के शव के पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया

मुन्ना बजरंगी के शव के पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया

गौरतलब है कि सोमवार सुबह 6 बजे सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या कर दी और पिस्टल को गटर में फेंक दिया.

  • Share this:

माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी के शव का अंतिम संस्कार मंगलवार को वाराणसी के मणिकर्णिका घाट पर हुआ. इससे पहले कड़ी सुरक्षा के बीच मुन्ना बजरंगी के शव को वाराणसी ले जाया गया. बागपत जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या के बाद उनका शव आज ही उनके पैतृक गांव जौनपुर जिले के सुरेरी थाना क्षेत्र के पुरे दयाल पहुंचा था. शव पहुंचते ही परिवार में कोहराम मच गया. इस बीच मुन्ना बजरंगी की पत्नी सीमा सिंह ने पति की हत्या के मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है.

उधर मुन्ना बजरंगी की ओर से सुरक्षा की मांग को लेकर 16 मई को एक याचिका दाखिल की गई थी, जिसकी सुनवाई 9 जुलाई को होनी थी. लेकिन बागपत जेल में मुन्ना बजरंगी की हत्या की सूचना मिलने पर उनकी अधिवक्ता स्वाति अग्रवाल ने हाईकोर्ट में मेंशन कर अदालत को इसकी जानकारी दी. एडवोकेट स्वाति अग्रवाल ने कोर्ट से हत्या की इस घटना पर स्वतः संज्ञान लेने की मांग की है. उन्होंने कहा कि जेल परिसर में असलहा कैसे पहुंचा, इसकी भी जांच जरूरी है. साथ ही कोर्ट से मुन्ना बजरंगी के परिजनों को क्षतिपूर्ति दिलाए जाने की भी मांग कोर्ट से की है. अधिवक्ता स्वाति अग्रवाल ने मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले की सीबीआई जांच कराए जाने की भी कोर्ट से मांग की है. जस्टिस एसडी सिंह की एकलपीठ ने अधिवक्ता स्वाति अग्रवाल को सुनने के बाद याचिका पर सुनवाई के लिए 11 जुलाई की तारीख लगा दी है.

जौनपुर: मुन्ना बजरंगी के गांव में पसरा सन्नाटा, परिजन बोले- चला गया मेरा शेर



बता दें कि इस याचिका पर हाईकोर्ट में 4 जुलाई को सुनवाई हुई थी. सुनवाई के बाद कोर्ट ने राज्य सरकार के अधिवक्ता से मामले में जानकारी मांगी थी और सुनवाई की अगली तिथि 9 जुलाई तय की थी. लेकिन झांसी जेल से बागपत जेल शिफ्ट किए जाने के बाद ही माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की जेल के अंदर हत्या कर दी गई.
मुन्ना बजरंगी की हत्या पर बोलीं कृष्णानंद राय की विधवा- खुशी हुई, किसी की तो आह लगी होगी

इस बीच डीएम बागपत ने मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट शासन को भेज दी है. गौरतलब है कि सोमवार सुबह 6 बजे सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या कर दी और पिस्टल को गटर में फेंक दिया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज