थाने में मुस्लिम युवक की बेरहम पिटाई, परिजनों ने लगाए संगीन आरोप

घायल युवक लड़खड़ाते हुए किसी तरह अपने घर पहुंचा और आपबीती अपनी मां को बताई. अपने बेटे के शरीर पर चोट के निशान को देख जब पुलिस के थर्ड डिग्री का शिकायत को लेकर थाने पहुंची.


Updated: July 27, 2018, 10:39 PM IST

Updated: July 27, 2018, 10:39 PM IST
यूपी के जौनपुर में पुलिस पर आरोप है कि उसने एक युवक को थर्ड डिग्री टॉर्चर किया है. आरोप है कि पुलिस ने युवक को पुलिस चौकी ले जाकर उसकी बड़ी बेरहमी से पिटाई की. फिलहाल घायल युवक को उपचार के लिए अस्पताल मे भर्ती कराया गया. युवक के शरीर पर चोट के कई जगह जख्म हैं. अब पुलिस की पिटाई से घायल युवक न्याय की मांग कर रहा है.

सरपतहा थाना क्षेत्र के अरसीया बाजार निवासी मो. हसन ने पिछले दिनों दो निकाह किया. निकाह के बाद पहली पत्नी जमीला खातून और हसन के बीच विवाद शुरू हो गया. विवाद इतना बढ़ गया कि पहली पत्नी ने अपने बच्चों के हिस्से की जायदाद मांगने लगी. ये पारिवारिक विवाद धीरे-धीरे मारपीट में तब्दील हो गया. मारपीट के सूचना पर पहुंची पुलिस ने पहले पत्नी जमीला खातून के छोटे बेटे हाशिम को मारते पिटते थाने ने आई. थाने में भी पुलिस ने हाशिम की बेरहमी से पिटाई करने के बाद उसे छोड़ा.

1 लाख 60 हजार सिपाहियों की कमी के बावजूद बेहतर काम कर रही UP पुलिस: CM योगी

घायल युवक लड़खड़ाते हुए किसी तरह अपने घर पहुंचा और आपबीती अपनी मां को बताई. अपने बेटे के शरीर पर चोट के निशान को देख जब पुलिस के थर्ड डिग्री का शिकायत को लेकर थाने पहुंची. तो उसे पुलिस थाने से भगा दिया. पीड़ित महिला का आरोप है कि उसके पति से पैसा लेकर पुलिस परिवार के लोगों पर कहर बरपा रही है. इस पूरे मामले में पुलिस के आलाधिकारी कैमरे के सामने बोलने से बच रहे हैं.

(मनोज सिंह पटेल की रिपोर्ट)
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर