खबर का असरः जौनपुर में फर्जी महिला संरक्षण गृह को प्रशासन ने कराया बंद

देवरियां कांड के बाद सीएम ने सभी जिलाधिकारियों को सभी आश्रय गृहों की जांच करने का आदेश दिया था. जांच पड़ताल के दौरान मौके पर संचालक की ओर से महिलाओं को प्रशिक्षण दिए जाने का प्रमाण पत्र नहीं दिखाए जाने पर प्रशासन ने गृह को बंद करने को कहा.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 11, 2018, 7:35 PM IST
खबर का असरः जौनपुर में फर्जी महिला संरक्षण गृह को प्रशासन ने कराया बंद
खबर का असरः जौनपुर में फर्जी महिला संरक्षण गृह को प्रशासन ने कराया बंद
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 11, 2018, 7:35 PM IST
न्यूज-18 उत्तर प्रदेश पर देवरिया कांड की खबरें लगातार चलाने के बाद प्रशासन ने जौनपुर में फर्जी महिला संरक्षण गृह को शुक्रवार को बंद करा दिया. खबर दिखाए जाने के बाद जिला प्रशासन ने संस्था पर बंद करने का बकायादा नोटिस चस्पा किया है.

चन्द्रा शिक्षण संस्थान में महिलाओं को रोजगारपरक प्रशिक्षण दिया जा रहा था. संस्थान में 30 महिलाओं को आश्रय देकर रहने और खाने-पीने की व्यवस्था की गई थी. इस गृह में अनेक महिलाएं कई वर्षों से गुजर-बसर करती चली आ रही हैं.

देवरियां कांड के बाद सीएम ने सभी जिलाधिकारियों को सभी आश्रय गृहों की जांच करने का आदेश दिया था. जांच पड़ताल के दौरान मौके पर संचालक की ओर से महिलाओं को प्रशिक्षण दिए जाने का प्रमाण पत्र नहीं दिखाए जाने पर प्रशासन ने गृह को बंद करने को कहा.

जांच के बाद प्रशासन ने शुक्रवार को फर्जी महिला संरक्षण गृह को बंद करवा दिया. प्रशासन ने संस्था पर बंद करने की सूचना चस्पा की है. इस मामले में डीएम ने जांच में मानक के अनुसार संस्था चलाने का कागजात नहीं दिखाए जाने पर उसे बंद करने का आदेश दिया था.

ये भी पढ़ें - 

मुजफ्फरनगर में चोरी के आरोप में मॉब लिंचिंग, युवक की मौके पर ही मौत

ईश्वर की भक्ति में खो जाने वाला कभी हिंसक नहीं हो सकता: दिनेश शर्मा

दारोगा भर्ती परीक्षा 2016: बायोमेट्रिक टेस्ट में फर्जी मिले 22 कैंडिडेट
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर