Home /News /uttar-pradesh /

UP Chunav 2022: सपा के साथ RLD के गठबंधन पर बोले जयंत चौधरी- इस महीने के अंत तक हम आ जाएंगे साथ

UP Chunav 2022: सपा के साथ RLD के गठबंधन पर बोले जयंत चौधरी- इस महीने के अंत तक हम आ जाएंगे साथ

राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने साफ किया कि इस महीने यानी नवंबर के अंत तक सपा के साथ गठबंधन को लेकर फैसला ले लिया जाएगा.

राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने साफ किया कि इस महीने यानी नवंबर के अंत तक सपा के साथ गठबंधन को लेकर फैसला ले लिया जाएगा.

Jayant Choudhary on RLD-SP Alliance: जयंत चौधरी ने कहा, 'अखिलेश जी से मिल रहे हैं, मिलते रहेंगे और साथ भी चलेंगे. सारी चीजों पर लगातार बात होती रहेगी. ओपचारिक घोषणा कुछ दिनों में हो जाएगी.' वहीं समाजवादी के साथ गठबंधन के औपचारिक ऐलान के बारे में पूछे जाने पर जाट नेता ने कहा, 'घोषणा तो हम साथ बैठकर करेंगे... इस महीने के आखिर तक हम फैसला ले लेंगे.'

अधिक पढ़ें ...

    लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (Uttar Pradesh Assembly Election 2022) को लेकर राष्ट्रीय लोकदल (रालोद-RLD) के अध्यक्ष जयंत चौधरी ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party Alliance) के साथ गठबंधन पर बड़ा बयान दिया है. जयंत चौधी ने साफ कहा कि इस महीने यानी नवंबर के अंत तक सपा के साथ गठबंधन को लेकर फैसला ले लिया जाएगा.

    जयंत चौधरी ने कहा, ‘अखिलेश यादव जी से मिल रहे हैं, मिलते रहेंगे और साथ भी चलेंगे. सारी चीजों पर लगातार बात होती रहेगी. ओपचारिक घोषणा कुछ दिनों में हो जाएगी.’ वहीं समाजवादी के साथ गठबंधन के औपचारिक ऐलान के बारे में पूछे जाने पर जाट नेता ने कहा, ‘घोषणा तो हम साथ बैठकर करेंगे… इस महीने के आखिर तक हम फैसला ले लेंगे.

    ये भी पढ़ें- किसानों, सरकार, विपक्ष और पीएम के लिए कृषि कानून निरस्त करने का क्या है मतलब

    वहीं कृषि कानून की वापसी के ऐलान के बाद जाटलैंड के नाम से मशहूर और चौधरी खानदान की कर्मभूमि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बीजेपी के साथ गठबंधन की किसी संभावना को लेकर सवाल किए जाने पर जयंत चौधरी ने कहा, ‘बीजेपी का दामन थामने का आधार क्या होगा? उत्तर प्रदेश में लोग तंग हैं. योगी जी को गवर्नेंस का पता ही नहीं है. बेरोज़गारी सबसे बड़ा मुद्दा है. बड़े-बड़े वादे तो करते हैं, लेकिन महिलाओं के खिलाफ जो हो रहा है उस पर कुछ नहीं करते हैं.

    ये भी पढ़ें- अखिलेश के साथ गठबंधन से जयंत चौधरी को होगा कितना लाभ? जानें पूरा गणित

    बता दें कि समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव कई बार आरएलडी के साथ गठबंधन को लेकर तस्वीर साफ कर चुके हैं. हालांकि आधिकारिक तौर पर अभी किसी भी पार्टी की तरफ से निर्णन नहीं आया है. ध्यान देने वाली बात यह भी है कि अपने अजित सिंह के निधन के बाद आरएलडी की कमान संभाल रहे जयंत चौधरी का बतौर पार्टी अध्यक्ष यूपी विधानसभा चुनाव पहली परीक्षा होगी, इसलिए वह आगामी चुनाव में पार्टी के परंपरागत वोटों को एकजुट करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं.

    इससे पहले वर्ष 2013 के मुजफ्फरनगर दंगों के बाद आरएलडी के परंपरागत जाट वोटरों का रुझान भाजपा की तरफ हो गया था, वहीं मुस्लिम मतदाता भी उनकी झोली से छिटक चुके थे. हालांकि किसान आंदोलन के चलते पश्चिमी यूपी में रालोद को थोड़ा फायदा मिलने की उम्मीद है. वहीं मुस्लिमों के बीच पार्टी के प्रति नाराजगी कम होती दिखी है. हालांकि ये मस्लिम मतदाता सपा और आरएलडी के बीच बंटे हुए दिख रहे हैं. ऐसे में यह गठबंधन दोनों की पार्टियों के लिए पश्चिमी उत्तर प्रदेश में संजीवनी की तरह साबित हो सकता है.

    Tags: 2022 Uttar Pradesh Assembly Elections, Jayant Choudhary, Rld, Samajwadi party, UP Election 2022

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर