Home /News /uttar-pradesh /

Noida News: डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर से जोड़ा जाएगा जेवर एयरपोर्ट!, यहां बिछाई जाएगी रेल लाइन

Noida News: डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर से जोड़ा जाएगा जेवर एयरपोर्ट!, यहां बिछाई जाएगी रेल लाइन

दिल्ली-हावड़ा रूट के डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर को जेवर एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए एक प्रस्ताव तैयार किया गया है. file photo

दिल्ली-हावड़ा रूट के डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर को जेवर एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए एक प्रस्ताव तैयार किया गया है. file photo

एयर ट्रैफिक (Air Traffic) पर कोई असर न पड़े, इसके लिए लॉजिस्टिक्स एरिया टनल्स में बनाया जाएगा. साथ ही बुलैट ट्रेन का स्टेशन भी अंडरग्राउंड होगा.

    नोएडा. दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) के कारोबार को रफ्तार देने के लिए जेवर एयरपोर्ट के साथ एक और खास कड़ी जोड़ी जा रही है. इस कड़ी के जुड़ने से दिल्ली से लेकर हावड़ा तक कारोबार को बिजली सी रफ्तार मिल जाएगी. इसके लिए दिल्ली-हावड़ा रूट के डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (Dedicated freight corridor) को जेवर एयरपोर्ट से जोड़ने के लिए एक प्रस्ताव तैयार किया गया है. प्रस्ताव को केन्द्र सरकार के पास मंजूरी के लिए भेज दिया गया है. गौरतलब रहे जेवर एयरपोर्ट (Jewar Airport) को रेल और रोड से जोड़ने के हर पहलू पर काम किया जा रहा है. एयर ट्रैफिक (Air Traffic) पर कोई असर न पड़े, इसके लिए लॉजिस्टिक्स एरिया टनल्स में बनाया जाएगा. साथ ही बुलैट ट्रेन का स्टेशन भी अंडरग्राउंड होगा.

    एयरपोर्ट से ऐसे जोड़े जाएंगे ईस्टर्न-वेस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर

    जानकारों की मानें तो जेवर एयरपोर्ट से 15 किमी की दूरी पर दिल्ली-हावड़ा रेल मार्ग का चोला रेलवे स्टेशन है. चोला स्टेशन के पास ही ईस्टर्न और वेस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर आपस में मिलते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए चोला स्टेशन से जेवर एयरपोर्ट तक 15 किमी की रेलवे लाइन बिछाने का प्रस्ताव तैयार किया गया है.

    इस लाइन के शुरू होते ही जेवर एयरपोर्ट सीधे ईस्टर्न और वेस्टर्न फ्रेट कॉरिडोर से जुड़ जाएगा. लेकिन यह लाइन पूरी तरह से सिर्फ माल ढुलाई के लिए ही होगी. गौरतलब रहे इसके अलावा माल ढुलाई के लिए बोढ़ाकी में भी बहुत बड़ा लॉजिस्टिक्स और वेयर हाउस हब बन रहा है.

    नोएडा में गोल्फ कोर्स के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू, एंट्री फीस इतनी कि खरीद लेंगे SUV

    3 एक्सप्रेस वे से भी जोड़ा जा रहा है जेवर एयरपोर्ट

    जेवर एयरपोर्ट को बेहतर रोड कनेक्टिविटी देने के लिए देश के तीन महत्वपूर्ण एक्स्प्रेस वे से भी जोड़ा जा रहा है. ग्रीन हाइवे की मदद से बल्लभगढ़ के पास दिल्ली-मुम्बई और और फरीदाबाद के पास केएमपी से जोड़ा जा रहा है. वहीं यमुना एक्सप्रेस वे पर पाइंट 32 के पास इंटरचेंज बनाकर एयरपोर्ट के टर्मिनल तक रोड जाएगा. आईजीआई एयरपोर्ट, दिल्ली से लेकर जेवर तक सुपर फास्ट मेट्रो ट्रेन से भी जोड़ा जा रहा है.

    ऐसी होंगी जेवर एयरपोर्ट की टनल्स

    जेवर एयरपोर्ट देश का बड़ा एयरपोर्ट बनने जा रहा है. इसी के चलते एयरपोर्ट पर ट्रैफिक जाम जैसी परेशानी को दूर करने के लिए एक बड़ा प्लान बनाया गया है. प्लान के तहत एयरपोर्ट टनल्स बनाई जाएंगी. आने वाले प्लेन इन्हीं टनल्स में पार्क किए जाएंगे. इतना ही नहीं जेवर एयरपोर्ट का लॉजिस्टिक्स एरिया भी अंडरग्राउंट मतलब टनल्स में होगा. गौरतलब रहे एयरपोर्ट के 100 फीसद ऑपरेशनल हो जाने के बाद यहां से 50 मिलियन यात्री उड़ान भरेंगे.

    Tags: Dedicated Freight Corridor, Indian railway, Jewar airport, Yamuna Expressway

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर