Home /News /uttar-pradesh /

Jewar Airport News: जेवर एयरपोर्ट से 30 सितंबर 2024 तक शुरू हो जाएगी उड़ान, वरना रोजाना लगेगा 10 लाख का जुर्माना

Jewar Airport News: जेवर एयरपोर्ट से 30 सितंबर 2024 तक शुरू हो जाएगी उड़ान, वरना रोजाना लगेगा 10 लाख का जुर्माना

भारतीय इतिहास,परंपरा के अलावा जेवर एयरपोर्ट तकनीक के मामले में भी काफी आगे है. यह एयरपोर्ट ऊर्जा, प्रकाश और पानी के लिए आत्मनिर्भर है.

भारतीय इतिहास,परंपरा के अलावा जेवर एयरपोर्ट तकनीक के मामले में भी काफी आगे है. यह एयरपोर्ट ऊर्जा, प्रकाश और पानी के लिए आत्मनिर्भर है.

जेवर में बन रहा एयरपोर्ट (Jewar International Airport) क्षेत्रफल के लिहाज से दुनिया का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट तथा एशिया और देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा. यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि अनुबंध के अनुसार 1095 दिन यानी 30 सितंबर 2024 से पहले जेवर एयरपोर्ट का काम पूरा हो जाना चाहिए. ऐसा ना होने की सूरत में निर्माण कंपनी पर रोजाना 10 लाख रुपये का जुर्माना लगेगा.

अधिक पढ़ें ...

नोएडा. उत्तर प्रदेश के नोएडा में बनने वाले देश के सबसे बड़े जेवर अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट (Jewar International Airport) से 30 सितंबर 2024 तक हर हाल में उड़ान शुरू हो जाएगी. अगर ऐसा नहीं होता है तो एयरपोर्ट बना रही स्विस कंपनी कंपनी पर रोज़ाना 10 लाख रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा. यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ. अरुणवीर सिंह ने यह जानकारी दी. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) के अधिसूचना से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने गुरुवार को जेवर एयरपोर्ट का शिलान्यास किया. इसके साथ ही इस एयरपोर्ट से लोकसभा चुनाव 2024 से पहले उड़ान शुरू करने की कसरत भी शुरू हो गई है.

यमुना प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉ. अरुणवीर सिंह ने बताया कि अनुबंध के अनुसार 1095 दिन यानी 30 सितंबर 2024 से पहले जेवर एयरपोर्ट का काम पूरा हो जाना चाहिए. ऐसा ना होने की सूरत में निर्माण कंपनी पर रोजाना 10 लाख रुपये का जुर्माना लगेगा. जेवर में बन रहा एयरपोर्ट क्षेत्रफल के लिहाज से दुनिया का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट तथा एशिया और देश का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा.

ये भी पढ़ें- दिल्ली से कितनी देर में पहुंचेंगे Noida Airport? जानें किस शहर से कितना दूर है जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शिलान्यास समारोह के दौरान इंफ्रास्ट्रक्चर को अपनी राजनीति बताते हुए कहा था कि अगर काम समय से पूरा नहीं होगा तो पेनेल्टी का भी प्रावधान है. जुर्माने के प्रावधान के बारे में जब नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के सीईओ डॉ. अरुणवीर सिंह से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि अगर काम समय पर पूरा नहीं होगा तो निर्माता कंपनी पर रोजाना 10 लाख रुपये का जुर्माना लगेगा.

ये भी पढ़ें- रेल-रोड और हेलीकॉप्टर सर्विस से ऐसे जुड़ेगा जेवर एयरपोर्ट, जानिए सब कुछ

दुनिया के चौथे सबसे बड़े जेवर एयरपोर्ट का निर्माण ज़्यूरिख़ एयरपोर्ट एजी की भारत में बने कंपनी यमुना इंटरनेशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड कर रही है. नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड को वाईआईएपीएल दिसंबर तक डेवलपमेंट प्लान दे देगा. इस एयरपोर्ट में कुल 5 रनवे बनाए जाएंगे, जिसमें एक रनवे एमआरओ ( मेंटेनेंस, रिपेयरिंग, ओवरहॉलिंग) का होगा. जहाजों की मरम्मत के लिए देश के 85% प्लेन विदेशों में मरम्मत होने जाते हैं, जिससे हर साल 10 हज़ार करोड़ रुपये खर्च होते हैं. MRO 40 एकड़ में बनाया जाएगा. एमआरओ के बनने से प्लेन की मरम्मत देश में ही हो सकेगी.

Tags: Airport in Jewar, Jewar airport, Noida Authority

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर