झांसी नन बदसलूकी मामले में बड़ी कार्रवाई, हिंदूवादी संगठन के 2 लोग गिरफ्तार

झांसी में धर्म परिवर्तन के शक में ट्रेन से उतारी गई थीं दो नन और 2 छात्राएं ((File Photo)

झांसी में धर्म परिवर्तन के शक में ट्रेन से उतारी गई थीं दो नन और 2 छात्राएं ((File Photo)

Jhansi News: झांसी के नन प्रकरण में अब कार्रवाई हुई है. मामले में पुलिस ने हिंदूवादी संगठन के दो लोगों को गिरफ्तार कर जीआरपी, झांसी के सुपुर्द किया है.

  • Share this:
झांसी. उत्तर प्रदेश के झांसी में 19 मार्च को ऋषिकेश से ओडिशा जा रही दो नन (Nun) और दो छात्राओं को रेलवे स्टेशन पर उतारने और उनसे घंटों पूछताछ करने के मामले में कार्रवाई हुई है. मामले में हिंदूवादी संगठन के दाे लोगों को गिरफ्तार किया गया है. दरअसल, इन नन के खिलाफ हिंदूवादी संगठनों के सदस्यों ने शिकायत की थी, जिसके बाद चारों को जीआरपी ने ट्रेन से उतारकर घंटों पूछताछ की थी.

ननों को जबरन ट्रेन से उतारने का मामला तब और तूल पकड़ गया था, जब मामले की लिखित शिकायत केरल के मुख्यमंत्री ने देश के गृहमंत्री अमित शाह से करके पूरे मामले में जांच कर कार्रवाई करने की अपील थी. गृह मंत्री ने पूरे मामले में कड़ी कार्रवाई का भरोसा दिया था. इसी के तहत गुरुवार को शहर कोतवाली, नवाबाद थाने की पुलिस के साथ सीओ सिटी, एसओजी की टीम ने मध्य प्रदेश से मामले के 2 आरोपियों को पकड़ लिया. इसके बाद झांसी पुलिस ने दोनों को जीआरपी के सुपुर्द किया. जीआरपी ने हिंदूवादी नेता और राष्ट्रभक्त संगठन के अध्यक्ष अंचल अडजरिया समेत एक अन्य आरोपी पुरुकेश अमरया को हिरासत में ले लिया है. दोनों से पूछताछ की जा रही है.

धर्म परिवर्तन की शिकायत पर ट्रेन से उतारी गईं

बता दें कि 19 मार्च को उत्कल एक्सप्रेस से उड़ीसा के राउरकेला जा रही दो नन के साथ दो अन्य युवतियां सफर कर रही थीं. इसी दौरान हिंदूवादी संगठन के नेताओं ने शिकायत की थी कि युवतियों को धर्म परिवर्तन के लिए ले जाया जा रहा है. इस दौरान झांसी में बड़ी संख्या में हिंदूवादी संगठनों के नेता पहुंच गए थे और हंगामा किया था. शिकायत के बाद जीआरपी ने दोनों नन के साथ युवतियों को ट्रेन से उतार लिया था. पूछताछ के बाद धर्म परिवर्तन का मामला न मिलने पर नन व युवतियों को छोड़ दिया गया था.
jhansi nun1
झांसी नन प्रकरण में दो लोग गिरफ्तार


केरल के मुख्यमंत्री ने गृह मंत्री को लिखा था शिकायती पत्र

इस पूरे मामले में केरल के मुख्यमंत्री और कैथोलिक काउंसिल (केरल) ने पीएमओ एवं गृह मंत्रालय से शिकायत की थी और मामले की जांच शुरू हो गई थी. अब इस मामले में झांसी के हिंदूवादी नेता अंचल अडजरिया सहित दो लोगों को जीआरपी ने हिरासत में ले लिया है.



जीआरपी क्षेत्राधिकारी नईम खान मंसूरी ने बताया कि प्रकरण में जांच चल रही थी. इसी बीच इंस्पेक्टर जीआरपी को सूचना मिली कि कुछ लोग नन प्रकरण में प्रदर्शन के बारे में चर्चा कर रहे हैं. सूचना का संज्ञान लेते हुए पुलिस ने अंचल अडजरिया व पुरुकेश अमरया को गिरफ्तार कर लिया है.

पूछताछ में धर्मांतरण जैसी बात नहीं निकली थी

झांसी के जीआरपी रेलवे स्टेशन पर कई घंटे की पूछताछ के बाद साबित हुआ था कि युवतियों के धर्मांतरण जैसी कोई बात नहीं है. इसके बाद ननों और उनके साथ की दोनों युवतियों को स्थानीय धर्मगुरु के साथ जाने दिया गया था, लेकिन तब तक ट्रेन जा चुकी थी और दोनों नन और उनकी दो सहयोगी अगले दिन उत्कल एक्सप्रेस से रवाना हुई थीं. इस मामले में झांसी जीआरपी थाने में एफआईआर दर्ज हुई थी. इसी मामले में जीआरपी झांसी ने झांसी कोतवाली इलाके के अंचल अड़गाड़िया और पुरकेश अमरिया को गिरफ्तार किया है. एसपी (रेलवे, लखनऊ) सौमित्र यादव ने बताया कि आरोपियों को धारा-151 के तहत गिरफ्तार किया गया है और मामले की विवेचना जारी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज