होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Jhansi News: बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी ने PhD कोर्स में किया बड़ा बदलाव, जानें कब आएंगे फॉर्म

Jhansi News: बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी ने PhD कोर्स में किया बड़ा बदलाव, जानें कब आएंगे फॉर्म

Bundelkhand University Jhansi: बुंदेलखंड विश्वविद्यालय ने नई शिक्षा नीति के तहत अपने पीएचडी कोर्स में कुछ बड़े बदलाव कि ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट:शाश्वत सिंह

झांसी. बुंदेलखंड विश्वविद्यालय ने अपने पीएचडी कोर्स में कुछ बड़े बदलाव किए हैं. यह बदलाव नई शिक्षा नीति किए गए हैं. इस बार विश्वविद्यालय में 38 की जगह 44 कोर्सेज में पीएचडी के फॉर्म निकाले जाएंगे. पहली बार पीएचडी में 6 नए कोर्सेज को जोड़े गए हैं. इसके साथ ही पीएचडी कोर्स वर्क भी अब 1 साल का होगा.

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय इस बार से म्यूजिक, फिजिकल एजुकेशन, एग्रोफोरेस्ट्री, स्टैटिस्टिक्स, जेनेटिक्स एंड प्लांट ब्रीडिंग और हॉर्टिकल्चर में भी पीएचडी करवाने जा रहा है.इसके लिए जल्द ही फॉर्म भी निकाले जाएंगे. डीन एकेडमिक्स प्रोफेसर एसपी सिंह ने बताया कि सितंबर के पहले सप्ताह में पीएचडी के फॉर्म जारी होंगे. इच्छुक विद्यार्थी बुंदेलखंड विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट www. bujhansi.ac.in पर जाकर फॉर्म भर सकेंगे. इसके साथ उन्होंने बताया कि सितंबर के पहले सप्ताह में फॉर्म निकलने के बाद विद्यार्थियों को फॉर्म भरने के लिए 1 महीने का समय दिया जाएगा. अक्टूबर में प्रवेश परीक्षा आयोजित होगी और नवंबर से कोर्स वर्क शुरू कर दिया जाएगा.

रिसर्च में डिप्लोमा की डिग्री भी मिलेगी
इसके साथ ही इस बार विद्यार्थी रिसर्च में डिप्लोमा भी कर सकेंगे. अगर कोई विद्यार्थी पीएचडी कोर्स वर्क पूरा करने के बाद पीएचडी पूरा न करने का निर्णय लेता है, तो उसे 1 साल के कोर्स वर्क के आधार पर पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन रिसर्च की डिग्री दे दी जाएगी. आपको बता दें कि इस बार बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में पीएचडी का सातवां बैच शुरू होगा. यह उत्तर प्रदेश का एकमात्र राज्य विश्वविद्यालय है जहां लगातार 7 बैच चलेंगे.

Bundelkhand University Jhansi

Tags: Bundelkhand, Jhansi news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें