होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

Jhansi: आयुर्वेद में शोध करने वाले विद्यार्थियों को बुंदेलखंड विश्वविद्यालय देगी फेलोशिप

Jhansi: आयुर्वेद में शोध करने वाले विद्यार्थियों को बुंदेलखंड विश्वविद्यालय देगी फेलोशिप

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में आयुर्वेद पर शोध के लिए फेलोशिप मिलेगी.

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय में आयुर्वेद पर शोध के लिए फेलोशिप मिलेगी.

बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के फेलोशिप प्रोग्राम के समन्वयक डॉ लवकुश द्विवेदी ने बताया कि फेलोशिप प्रोग्राम दो लेवल पर चलेगा. पहले स्तर पर पोस्ट ग्रेजुएशन के विद्यार्थियों को फेलोशिप दी जाएगी. एमएससी के अंतिम सेमेस्टर में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को डिसर्टेशन करना होता है, जिसमें फेलोशिप का प्रावधान होगा.

अधिक पढ़ें ...

    रिपोर्ट – शाश्वत सिंह

    झांसी. 
    आयुर्वेद के क्षेत्र में शोध को बढ़ावा देने के लिए बुंदेलखंड विश्वविद्यालय अब अपने विद्यार्थियों को फेलोशिप देगा. मई के महीने में बुंदेलखंड विश्वविद्यालय और बैद्यनाथ ग्रुप के बीच एक एमओयू किया गया था. इसी एमओयू के तहत यह फेलोशिप शुरू की जा रही है. बैद्यनाथ रिसर्च फेलोशिप प्रोग्राम पोस्ट ग्रेजुएशन और पीएचडी के विद्यार्थियों के लिए शुरू किया गया है. इसका उद्देश्य विद्यार्थियों को आयुर्वेद के क्षेत्र में शोध करने के लिए प्रोत्साहित करना है.

    फेलोशिप प्रोग्राम के समन्वयक डॉ लवकुश द्विवेदी ने बताया कि यह फेलोशिप प्रोग्राम दो लेवल पर चलाया जाएगा. पहले स्तर पर पोस्ट ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों को यह फेलोशिप दी जाएगी. यह फेलोशिप एमएससी के विद्यार्थियों को दी जाएगी. उन्होंने बताया कि एमएससी के अंतिम सेमेस्टर में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को डिसर्टेशन करना होता है. इसमें अगर कोई विद्यार्थी आयुर्वेद से सम्बन्धित विषय लेता है तो उसे यह फेलोशिप दी जाएगी.

    यह है चयन प्रक्रिया

    डॉ. द्विवेदी ने बताया कि फेलोशिप के लिए विद्यार्थियों को आवदेन करना होगा. पहले मेरिट के आधार पर 15 विद्यार्थियों का सेलेक्शन किया जाएगा. मेरिट हाई स्कूल से लेकर एमएससी फर्स्ट ईयर में मिले मार्क्स के आधार पर बनाई जाएगी. इसके बाद इन 15 विद्यार्थियों को अपने आइडिया एक समिति के सामने प्रस्तुत करने होंगे. समिति द्वारा 5 विद्यार्थियों को फेलोशिप के लिए चयनित किया जाएगा. इन विद्यार्थियों को प्रतिमाह 6 हजार रुपए दिए जाएंगे. यह फेलोशिप 6 महीने तक मिलेगी.

    पीएचडी के विद्यार्थियों को भी मिलेगी फेलोशिप

    इसके साथ ही बुंदेलखंड विश्वविद्यालय के कैंपस से पीएचडी करने वाले विद्यार्थियों को भी यह फेलोशिप दो जाएगी. अगर कोई शोधार्थी आयुर्वेद के क्षेत्र में पीएचडी करता है तो उसे प्रतिमाह 16 हजार रुपए की फेलोशिप दी जाएगी. यह फेलोशिप हर साल रिन्यू की जाएगी. डॉ. द्विवेदी ने बताया कि फेलोशिप प्रोग्राम के लिए जल्द ही आवदेन आमंत्रित किए जाएंगे. फेलोशिप से जुड़ी तमाम अपडेट्स के लिए विद्यार्थी विश्वविद्यालय की आधिकारिक वेबसाइट www.bujhansi.ac.in पर जा सकते हैं.

    Bundelkhand University

    Tags: Jhansi news, Scholarships

    अगली ख़बर