Home /News /uttar-pradesh /

पेपर लीक पर स्वामी प्रसाद मौर्य बोले- पहली बार नहीं हुआ ऐसा, पर कार्रवाई पहली बार हो रही

पेपर लीक पर स्वामी प्रसाद मौर्य बोले- पहली बार नहीं हुआ ऐसा, पर कार्रवाई पहली बार हो रही

कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य.

कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य.

Bundelkhand: झांसी पहुंचे सरकार के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य (Swami Pasad Maurya) ने विभिन्न मुद्दों पर अपने विचार रखे. उन्होंने इन दिनों चर्चित यूपी टीईटी (UP TET) पेपर ​लीक (Paper Leak) प्रकरण को लेकर बड़ा बयान दिया. श्रम, सेवायोजना एवं समन्वय विभाग मंत्री मौर्य ने कहा कि पहली बार पेपर लीक नहीं हुआ है. इससे पहले भी कई बार पेपर लीक हुए हैं लेकिन यह पहली बार है जब बड़े स्तर पर इसे लेकर कार्रवाई की जा रही है.

अधिक पढ़ें ...

बुंदेलखंड. आगामी विधानसभा चुनाव 2022 के लिए उत्तर प्रदेश में सभी पार्टियां अपने अपने तरीके से कोशिशें कर रही हैं. बुंदेलखंड की बात की जाए तो यहां 2017 में सात जिलों की 19 विधानसभा सीटों पर भाजपा ने जीत दर्ज की थी. ऐसे में 2022 में एक बार फिर भाजपा अपनी जीत को दोहराना चाहती हैं. इस कड़ी में हाल ही झांसी पहुंचे सरकार के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य ने विभिन्न मुद्दों पर अपने विचार रखे. उन्होंने इन दिनों चर्चित यूपी टीईटी पेपर ​लीक प्रकरण को लेकर बड़ा बयान दिया. श्रम, सेवायोजना एवं समन्वय विभाग मंत्री मौर्य ने कहा कि पहली बार पेपर लीक नहीं हुआ है. इससे पहले भी कई बार पेपर लीक हुए हैं लेकिन यह पहली बार है जब बड़े स्तर पर इसे लेकर कार्रवाई की जा रही है.

पूर्व सरकारों ने कुछ नहीं किया

मौर्य ने कहा कि इस पेपर लीक प्रकरण में सभी आरोपियों की धर पकड़ हो रही है. सरकार की ओर से किसी प्रकार का भेदभाव नहीं हो रहा है और हर स्तर पर लोगों को गिरफ्तार किया जा रहा है. सभी आरोपी एक के बाद एक जेल की हवा खा रहे हैं. कानून ने सभी का ​गिरेबान पकड़ रखा है. हमारी सरकार लगातार लोगों को रोजगार देने का प्र्यास कर रही है. कई माध्यमों से परीक्षाओं का आयोजन किया जा रहा है. एक परीक्षा, वह भी प्री टेस्ट है, उसमें यदि पर्चा लीक हुआ तो दो दर्जन से अधिक लोग कानून की गिरफ्त में आ चुके हैं. पहली बार पर्चा लीक करने में लगे हुए लोगों के खिलाफ कड़ी कानून कार्यवाही हो रही है. इससे पहले पूर्व की सरकारों में भी अनेक बार पर्चा लीक हुए है लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई. सब ठंडे बस्ते में चला जाता था.

बसपा जमीन पर आ गई है

श्रमिकों की बेटियों के सामुहिक विवाह में पहुंचे मौर्य ने पत्रकार वार्ता के दौरान कई बड़ी बातें की. वरुण गांधी की ओर से रोजगार पर किए गए टवीट पर उन्होंने कहा कि पेपर लीक पहले भी हुए हैं लेकिन पहली बार इतनी बड़ी कार्रवाई हो रही है. मौर्य ने बसपा पर भी निशाना साधा और कहा कि बसपा आज जमीन पर आ गई है. बसपा में अभी तक सब साइलेंट मोड पर थे लेकिन जैसे जैसे चुनाव नजदीक आ रहे हैं सभी बाहर निकलने लगे हैं. अब सभी वोट मांगते नजर आएंगे और इससे ज्यादा बासपा की दुर्गति क्या होगी? जो चार बार मुख्यमंत्री रहा वह आज जमीन पर आ गया है. एक एमएलसी के लिए तरस रहा है, एक राज्य सभा के लिए तरस रहा है, जो विधायक जीते थे वह भी कहीं न कहीं चले गए हैं, मात्र एक विधायक बचा हुआ है. अखिलेश यादव के बुंदेलखंड दौरे को लेकर उन्होंने कहा कि पांच साल में पहली बार वह निकले हैं और पहली बार बोले हैं. उनकी जुबान से आवाज निकली है इसके लिए उन्हें धन्यवाद देता हूं. पांच साल से वह अपने घर में आराम फरमा रहे थे. उस समय उन्हें प्रदेश की जनता का खयाल नहीं था. वह जनता के बीच कभी गए नहीं और यदि पहली बार निकले है तो उनका विरोध क्यों?

Tags: BJP, BSP, Bundelkhand, CM Yogi, Jhansi news, Paper Leak, Swami prasad maurya, UPTET

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर