होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /7 साल के बच्चे के बयान पर हत्यारे बाप को 10 साल की कैद, कोर्ट में कहा- पापा ने ही मम्मी को मारा, मुंह से निकला था खून

7 साल के बच्चे के बयान पर हत्यारे बाप को 10 साल की कैद, कोर्ट में कहा- पापा ने ही मम्मी को मारा, मुंह से निकला था खून

प्रतिकात्मक फोटो 

प्रतिकात्मक फोटो 

Crime in UP: नाबालिग बेटे ने कोर्ट में बताया कि पापा मम्मी को मारा करता था. पापा ने ही मम्मी को मारा है. मम्मी के मुंह ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : शाश्वत सिंह

झांसी. झांसी में 7 साल के एक मासूम बच्चे की गवाही से उसके ही पिता को सजा हो गई. बच्चे ने अपनी मां की मौत का जिम्मेदार अपने पिता को बताया. बच्चे की गवाही को विश्वसनीय मानते हुए कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया. बच्चे ने कोर्ट में बताया कि उसके पिता ने उसकी मां को बेरहमी से पीटा था. उस समय मां के मुंह और नाक से खून निकल रहा था. अपर सत्र न्यायाधीश के कोर्ट ने बच्चे के पिता को 10 साल सश्रम कारावास की सजा सुनाई है.

अभियोजन पक्ष की तरफ से पेश हुए फौजदारी के जिला शासकीय अधिवक्ता देवेंद्र सिंह पांचाल ने बताया कि करगुवां के रहनेवाले राकेश कुशवाहा की पत्नी पूनम अपनी ससुराल में 6 फरवरी 2020 को मृत पाई गई थीं. दोनों का विवाह 1998 में हुआ था. पूनम के परिवार ने राकेश पर उसके साथ मारपीट करने का आरोप लगाया था. पूनम की मां शंकुतला देवी की शिकायत पर पुलिस ने राकेश कुशवाहा के खिलाफ मुकदमा लिखकर जांच शुरू कर दी थी. जांच के बाद पुलिस ने राकेश के खिलाफ चार्जशीट फाइल कर दी. गवाहों में सिर्फ राकेश कुशवाहा का बेटा ही चश्मदीद था.

बच्चे की गवाही से हुई सजा

कोर्ट ने बच्चे को गवाही के लिए बुलाया. इस समय बच्चे कि उम्र 7 वर्ष है. नाबालिग बेटे ने कोर्ट में बताया कि पापा मम्मी को मारा करता था. पापा ने ही मम्मी को मारा है. मम्मी के मुंह से खून भी निकला था. मैं उस वक्त जाग रहा था और मैंने मम्मी की आवाज भी सुनी थी. वकीलों की जिरह के बावजूद बच्चे के बयान में कोई बदलाव नहीं आया. इसके बाद कोर्ट ने बच्चे की गवाही को विश्वसनीय मानते हुए उसे एकमात्र साक्षी माना. कोर्ट ने हत्यारे पिता को 10 वर्ष सश्रम कारावास की सजा सुनाई और पचास हजार रुपए का जुर्माना लगाया.

Tags: Crime against women, Crime in up, Jhansi news

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें