Home /News /uttar-pradesh /

crime news dog robbed instead of cash in jhansi up news

UP: रात के अंधेरे में कैश से भरा बैग समझकर कुत्ते को ही लूट ले गए लुटेरे, जानें यह अनोखा मामला


रात के अंधेरे में बैग में कैश समझकर लुटेरे लूट ले गए कुत्ता, जानें यह अनोखा मामला (सांकेतिक तस्वीर)

रात के अंधेरे में बैग में कैश समझकर लुटेरे लूट ले गए कुत्ता, जानें यह अनोखा मामला (सांकेतिक तस्वीर)

उत्तर प्रदेश के झांसी में लूट की एक ऐसी वारदात सामने आई है, जहां रात के अंधेरे में बदमाशों ने पैसों से भरा बैग समझकर कुत्ते वाला बैग ही लूट लिया. अब यह मामला पुलिस तक पहुंच गया है. पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है और उससे पूछताछ जारी है.

अधिक पढ़ें ...

झांसी: उत्तर प्रदेश के झांसी में लूट का एक अनोखा मामला सामने आया है, जहां कैश लूटने आए बदमाशों ने पैसों से भरा बैग समझकर कुत्ते को ही उठा कर ले गए. जी हां, आमतौर पर आपने लूट के मामलों में कैश की लूट, सोना-चांदी की लूट या कीमती सामान की लूट के तमाम मामलों को देखा या सुना होगा, मगर क्या आपने कभी ऐसा मामला देखा या सुना है, जहां किसी कुत्ते को ही लुटेरों ने घेरकर लूट लिया हो, वह भी कैश समझ कर. दरअसल, कुत्ते की लूट का मामला झांसी का है, जहां बाइक सवार लुटेरों ने बैग में रखे कैश को समझकर कुत्ते को लूट लिया और बाद में पता चला कि उस बैग में कैश की जगह कुत्ता था.

यह मामला सीपरी बाजार थाना क्षेत्र का है, जहां ग्वालियर रोड पुलिस चौकी के पीछे रेलवे क्रॉसिंग के पास तड़के 2:30 बजे रात में बाइक सवार तीन लुटेरों ने एक शख्स के साथ लूटपाट की घटना को अंजाम दिया. शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के रहने वाले कुणाल ने पुलिस को प्रार्थना पत्र देते हुए आरोप लगाया कि गुरुवार 2:30 बजे रात में उसके रिश्तेदार का कुत्ता काफी बीमार हो गया था, जिसको वह सीपरी बाजार थाना क्षेत्र के मिशन कंपाउंड के रहने वाले रवि गुप्ता के घर दवाई दिलाने ले जा रहे थे.

शिकायत में कहा गया है कि कुणाल ने घर से ग्वालियर रोड रेलवे क्रॉसिंग जैसे ही पार किया, तभी पीछे से बाइक सवार लुटेरों ने पीछा करके कुणाल को रोक कर उनके साथ जमकर मारपीट कर दी. इस दौरान एक लुटेरे ने उस बैग को लूट लिया, जिस बैग के अंदर कुणाल ने डॉगी यानी कुत्ते को रखा हुआ था. इस तरह से बैग के अंदर कैश समझ कर लुटेरे कुणाल से उसका कुत्ता लूटकर मौके से फरार हो गए.

कुत्ते के मालिक ने पुलिस से इस मामले की शिकायत की है. मामले की शिकायत पुलिस में होने के बाद पुलिस पीड़ित कुणाल की निशानदेही पर एक संदिग्ध लुटेरे को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है. हालांकि, पूछताछ में अभी तक लुटेरों ने लूट की घटना नहीं कबूली है. वहीं, कैश समझकर लूटा हुआ कुत्ता अभी तक बरामद नहीं हुआ है.

कुत्ते के मालिक का रो-रो कर बुरा हाल है. कुत्ते के मालिक रवि गुप्ता का कहना है कि वह उनके लिए कुत्ता नहीं बल्कि उनका अपना बच्चे जैसा था. जिसको वह बचपन से ही पाल रहे थे. अभी उसकी उम्र महज 30 दिन ही की थी. फिलहाल सीपरी बाजार थाने में लुटेरे को रखकर उसे पूछताछ चल रही है. 30 दिन का कुत्ते का बच्चा कहां है, किस हाल में है, किसके पास है, इसकी अभी तक कोई जानकारी न तो पुलिस बता पा रही है, ना ही कुत्ते के मालिक को लग पाई है.

Tags: Jhansi news, Uttar pradesh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर