Home /News /uttar-pradesh /

doctor ravindra arrested after 4 months in suicide case of female pharmacist in jhansi upns

Jhansi News: महिला फार्मासिस्ट के खुदकुशी मामले में डॉ. रविंद्र गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

युवती जालौन के बाबई थाना क्षेत्र की रहने वाली थी.

युवती जालौन के बाबई थाना क्षेत्र की रहने वाली थी.

जान देने से पहले फार्मासिस्ट द्रोपदी वर्मा ने जो सुसाइड नोट लिखा है उसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे. महिला ने लिखा, 'बहुत सोचा मगर किसी ने हौसला नहीं बढ़ाया, सीता को भी राम के सामने अग्निपरीक्षा देनी पड़ी. जबकि सीता रावण के यहां सुरक्षित थी. लेकिन यहां तो राम ही रावण हैं. इतना लिखकर युवती ने अपनी फंदे पर लटककर जान दे दी. युवती जालौन के बाबई थाना क्षेत्र की रहने वाली थी.

अधिक पढ़ें ...

झांसी. झांसी के गुरसराय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर तैनात महिला फार्मासिस्ट के फांसी लगाकर आत्महत्या मामले में पुलिस ने सीएचसी के तत्कालीन प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ. रविंद्र सिंह को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने सुसाइड नोट और मोबाइल की कॉल डिटेल के आधार पर कार्रवाई की है. डॉ. रविंद्र पर फार्मासिस्ट से रेप के बाद सुसाइड के लिए पीड़िता को मजबूर करने का आरोप लगा है. मामला दर्ज होने के बाद से आरोपी डॉक्टर चार महीने से फरार चल रहा था. बता दें कि महिला फार्मासिस्ट द्रोपदी वर्मा ने 22 मार्च 2022 की रात को अस्पताल परिसर में स्थित अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. उसकी रिपोर्ट थाना गुरसराय में उसके पिता विजय शंकर निवासी ग्राम बाबई थाना चुर्खी जिला जालौन ने 24 मार्च 2022 को दर्ज कराई थी.

जान देने से पहले फार्मासिस्ट द्रोपदी वर्मा ने जो सुसाइड नोट लिखा है उसे जानकर आप हैरान रह जाएंगे. महिला ने लिखा, ‘बहुत सोचा मगर किसी ने हौसला नहीं बढ़ाया, सीता को भी राम के सामने अग्निपरीक्षा देनी पड़ी. जबकि सीता रावण के यहां सुरक्षित थी. लेकिन यहां तो राम ही रावण हैं. इतना लिखकर युवती ने अपनी फंदे पर लटककर जान दे दी. युवती जालौन के बाबई थाना क्षेत्र की रहने वाली थी.

आरोपी डॉक्टर को मिला था चार्ज
इससे पहले प्रभारी चिकित्सा अधिकारी पद पर रहते हुए डॉक्टर रविंद्र सिंह के विरुद्ध मुकदमा अपराध संख्या 118. 21 धारा 376.354. 504 आईपीसी में थाना गुरसराय में दर्ज हुआ था जिसके चलते डॉक्टर रविंद्र सिंह ने अपने प्रभाव के बल पर अपना स्थानांतरण झांसी करा लिया था. जबकि इस घटना के बाद उसके विरुद्ध विभागीय कार्रवाई सीएमओ को करनी चाहिए थी लेकिन उसे चिरगांव सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का चार्ज दे दिया गया.

Tags: CM Yogi, Crime against women, Jhansi news, Jhansi Police, Suicide Case, UP news, UP Police उत्तर प्रदेश, Yogi government

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर