होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Jhansi: नवरात्र के उपवास के बाद कुछ दिन करें अल्पाहार फिर अपनाएं नॉर्मल डायट, रहेंगे सेहतमंद

Jhansi: नवरात्र के उपवास के बाद कुछ दिन करें अल्पाहार फिर अपनाएं नॉर्मल डायट, रहेंगे सेहतमंद

Food Expert Advice: डॉक्टर अंजलि श्रीवास्तव के मुताबिक, जो लोग व्रत रखते हैं उन्हें इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि ...अधिक पढ़ें

  • News18Hindi
  • Last Updated :

हाइलाइट्स

डॉक्टर अंजलि ने नवरात्र ने कहा कि नवरात्र के बाद व्रती को अचानक भर पेट भोजन शुरू नहीं करना चाहिए.
व्रती को चाहिए कि अल्पाहार करते हुए अपना डोज बढ़ाए, फिर दो-चार दिनों में अपना नॉर्मल डायट अपनाए.

रिपोर्ट: शाश्वत सिंह

झांसी: शारदीय नवरात्र का पावन पर्व चल रहा है. इन नौ दिनों में लोग मां दुर्गा की उपासना करने के लिए व्रत रखते हैं. विभिन्न लोग अलग-अलग तरीकों से यह व्रत रखते हैं. नवरात्र के दौरान कुछ लोग सिर्फ पानी पीकर व्रत करते हैं तो कुछ लोग फलाहार करते हैं और कुछ लोग दिन में एक बार नमक खाते हुए भी व्रत रखते हैं. इन अलग-अलग विधि और परंपरा का पालन करते हुए लोग अपनी सेहत का ध्यान कैसे रखें, यह जानने के लिए NEWS18 LOCAL की टीम ने बात की फूड एक्सपर्ट डॉ अंजलि श्रीवास्तव से.

डॉक्टर अंजलि श्रीवास्तव के मुताबिक, जो लोग व्रत रखते हैं उन्हें इस बात का विशेष ध्यान रखना चाहिए कि व्रत से एक दिन पहले लाइट भोजन करें. बेहतर होगा कि व्रत शुरू करने से कुछ दिन पहले से ही पेट को कम भोजन का अभ्यस्त बनाएं ताकि व्रत के दिनों में कुछ न खाने का असर सेहत पर ज्यादा न हो. जो लोग सिर्फ पानी पर व्रत रखते हैं वे जूस अवश्य पीते रहें. इसके साथ ही दिन में नींबू और चीनी से बनी शिकंजी भी पीते रहना चाहिए.

बाजार के भोजन से रहें दूर

डॉ श्रीवास्तव ने कहा कि जो भक्त दिन में एक बार नमक खाते हैं, वे लोग अपने भोजन में उबली हुई चीजों को ही शामिल करें. तली हुई खाने की वस्तुओं से परहेज करें. इसके साथ ही कुट्टू का आटा और सेंधा नमक जैसी वस्तुओं का सेवन कर सकते हैं. मौसमी फल के अलावा ड्राई फ्रूट्स, मखाने की खीर, लौकी की खीर और दूध का सेवन कर सकते हैं. डॉ. अंजलि ने यह भी कहा कि बाजार में मिलने वाली पैकेज्ड फलाहारी वस्तुओं का सेवन बिल्कुल न करें. सिर्फ घर का बना शुद्ध और सात्विक भोजन ही खाएं.

व्रत खत्म होने के बाद अल्पाहार

डॉक्टर अंजलि ने नवरात्र की अवधि समाप्त होने को लेकर भी एक और खास बात का ध्यान रखने की सलाह दी है. उन्होंने कहा है कि नवरात्र का उपवास खत्म होने के बाद व्रती को अचानक से भर पेट भोजन शुरू नहीं करना चाहिए. उपवास शुरू होने से पहले जैसे पेट को कम भोजन का अभ्यास कराया गया था, ठीक वैसे ही व्रत के खत्म होने के बाद व्रती को चाहिए कि वह अल्पाहार करते हुए अपने डोज बढ़ाए और फिर दो-चार दिनों में अपना नॉर्मल डायट अपनाए.

Tags: Healthy Diet, Jhansi news, Navratri festival, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें