• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • सूखाग्रस्त बुंदेलखंड में सोलर हैंडपंपों से बुझेगी प्यास

सूखाग्रस्त बुंदेलखंड में सोलर हैंडपंपों से बुझेगी प्यास

DEMOPIC

DEMOPIC

बुंदेलखंड क्षेत्र के हमीरपुर जनपद की चार ग्राम पंचायतों में सोलर वाटर पंप की सुविधा से लैस हैंडपंप लगाए गए हैं, जो न सिर्फ सौ मीटर की दूरी पर बसे वाशिंदों की प्यास घर बैठे बुझाएगी, बल्कि हैंडपंप का डंडा हिलाए बिना ही लोगों को ठंडा पानी नसीब होगा.

  • Agencies
  • Last Updated :
  • Share this:
    बुंदेलखंड क्षेत्र के हमीरपुर जनपद की चार ग्राम पंचायतों में सोलर वाटर पंप की सुविधा से लैस हैंडपंप लगाए गए हैं, जो न सिर्फ सौ मीटर की दूरी पर बसे वाशिंदों की प्यास घर बैठे बुझाएगी, बल्कि हैंडपंप का डंडा हिलाए बिना ही लोगों को ठंडा पानी नसीब होगा.

    खास बात तो यह है कि टंकी का पानी खत्म होते ही यह वाटर पंप स्वत: चालू हो जाएगा. साथ ही टंकी भरते ही अपने आप वाटर पंप बंद भी हो जाएगा. सरकार के इस इंतजाम से ग्रामीणों के चेहरे खुशी से खिल उठे हैं.

    उत्तर प्रदेश के सोनभद्र और चंदौली जिलों में सरकार इस सुविधा के तहत ग्रामीणों को गुणवत्ता पूर्ण ठंडा पानी मुहैया करा रही है. दोनों जनपदों में अच्छे परिणाम मिलने के बाद सूबे की अखिलेश सरकार ने इस महत्वाकांक्षी योजना को बुंदेलखंड की जमीन पर उतारा है.

    पहले दौर में सुमेरपुर ब्लॉक की चार ग्राम पंचायतों में आधा दर्जन स्थानों पर सोलर वाटर पंप से लैस हैंडपंप स्थापित किए गए हैं.

    पहले चरण में पौथियां में दो, बांकी में दो, बिदोखर पुरई में एक तथा बिदोखर मेंदनी में एक हैंडपंप स्थापित कराया गया है.

    हैंडपंप स्थापित वाले स्थान पर पांच हजार लीटर की क्षमता की टंकी लगाकर दोनों तरफ 37-37 मीटर पाइपलाइन बिछाकर दो जगहों पर वाटरहेड बनाकर ग्रामीणों को ठंडा पानी मुहैया कराने के इंतजाम कर दिए गए हैं. इस नई व्यवस्था में टंकी के साथ ही तीन जगहों से लोगों को पानी उपलब्ध होगा.

    हैंडपंप में सोलर लाइट से चलने वाला मोटर डाला गया है, जो टंकी का पानी खत्म होते ही अपने आप चलेगा और टंकी भरते ही स्वत: बंद भी हो जाएगा. सरकार की इस व्यवस्था से ग्रामीण गदगद हैं.

    बिदोखर मेंदनी के प्रधान प्रतिनिधि रामनरेश मिश्रा और बिदोखर पुरई के प्रधान चंद्रप्रकाश यादव ने संयुक्त रूप से कहा कि सरकार की यह व्यवस्था बहुत ही अच्छी है. सूखे से बदहाल इलाकों में सरकार को अब इंडिया मार्का हैंडपंपों के स्थान पर बुंदेलखंड में सोलर वाटर पंप युक्त हैंडपंप ही स्थापित कराए जाने चाहिए, क्योंकि इससे ज्यादा से ज्यादा आबादी की प्यास बुझेगी.

    सबसे बड़ी बात तो यह है कि लोगों को गुणवत्तापूर्ण ठंडा पानी भी मिलेगा, जिससे लोग बीमारी से महफूज रहेंगे.

    बीडीओ महेंद्र देव पांडेय ने बताया कि प्रथम चरण में ब्लॉक के आधा दर्जन स्थानों पर छह सोलर वाटर पंप युक्त हैंडपंप लगाए गए हैं और जल्द ही अन्य ग्राम पंचायतों में भी इस तरह के हैंडपंप लगवाए जाने के लिए शासन को प्रस्ताव भिजवाया जाएगा.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज