Home /News /uttar-pradesh /

यूपी में चुनाव है, बुंदेलखंड में आपदा; बारिश ने बर्बाद कर दी फसल तो किसान ने लगाया फंदा

यूपी में चुनाव है, बुंदेलखंड में आपदा; बारिश ने बर्बाद कर दी फसल तो किसान ने लगाया फंदा

Bundelkhand News: बुंदेलखंड में ओलावृष्टि से कई इलाकों में रबी की फसल का बंटाधार.

Bundelkhand News: बुंदेलखंड में ओलावृष्टि से कई इलाकों में रबी की फसल का बंटाधार.

Bundelkhand News Update: बुंदेलखंड में एक बार फिर प्राकृतिक आपदा ने तबाही मचा दी. ओलावृष्टि ने कई इलाकों में रबी की फसल का बंटाधार कर दिया. महोबा से लेकर झांसी और ललितपुर जिलों में चना, मसूर, राई और गेहूं की फसल को भारी नुकसान हुआ. बर्बादी देख महोबा के एक किसान ने फांसी लगाकर जान देने की कोशिश की. उसे गंभीर हालत में झांसी मेडिकल कॉलेज भेजा गया है. नुकसान पर किसान कई जगह प्रदर्शन कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

झांसी. यूपी का बुंदेलखंड एक बार फिर प्रकृति की कहर से जूझ रहा है. एक तरफ पूरा उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के रंग में रंग रहा है, दूसरी ओर बुंदेलखंड के किसान यहां हुई बेमौसम बारिश के साथ ओलावृष्टि का कोप झेल रहे हैं. बारिश ने रबी की फसल का बंटाधार कर दिया. महोबा से लेकर झांसी और ललितपुर जिलों में किसानों की तैयार हो रही फसल ओलों की बारिश से जमीन में बिछ गई है. इससे किसानों में हाहाकार मच गया है. वे एक बार फिर आर्थिक संकट और कर्ज के बोझ के मुहाने पर हैं.

इस आसमानी आपदा से टूटे ​कई किसान सरकार से मदद की गुहार लगा रहे हैं तो कुछ हिम्मत हारकर फांसी लगाकर जान देने की भी कोशिश करते देखे जा रहे हैं. महोबा में बर्बाद हुई फसल देखकर एक किसान फांसी के फंदे पर झूल गया. उसे समय रहते फंदे से उतार लिया गया, लेकिन उसकी हालत बिगड़ने पर झांसी मेडिकल के लिए रैफर कर दिया गया है. वहीं ललितपुर में भी ओलावृष्टि से एक किसान का घर ढह गया, जिसमें उसके 7 साल के बच्चे की मौत हो गई.

महोबा में किसान ने खुदकुशी का किया प्रयास

बुंदेलखंड में प्रकृति का कहर कोई नई बात नहीं है. यहां किसानों को ऐसी आपदाओं से अक्सर जूझना पड़ता है. इस बार भी वह इसी आसमानी कहर का शिकार बने हैं. दो दिन पहले यहां अतिवृष्टि व ओलावृष्टि ने रबी की फसल को बड़ा नुकसान पहुंचाया है. महोबा में अतिवृष्टि व ओलावृष्टि से खेतों मे खड़ी रबी की फसल नष्ट हो जाने पर आहत एक किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या किये जाने का प्रयास किया है. कृषक को गंभीर अवस्था में इलाज के लिए जिला चिकित्सालय लाया गया. उसकी हालत नाजुक होने पर जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों ने किसान को झांसी मेडिकल कॉलेज रिफर कर दिया.

झांसी मेडिकल कॉलेज में बची जान

जिस किसान ने फांसी लगाकर आत्महत्या करने की कोशिश की वह कुलपहाड़ तहसील के बगवाहा गांव का रहने वाला है. पिछले कुछ दिनों की बारिश और ओलावृष्टि से 55 वर्षीय किसान रामगोपाल की दलहन और रबी की फसल 70 से 80 प्रतिशत तक नष्ट हो गई. बताया गया है कि किसान रामगोपाल ने जैसे ही खेत में फसल की तबाही को देखा तो वह हताश गया. उसने वहीं खेत में लगे पेड़ पर फंदा डालकर फांसी लगा दी. तभी आसपास के किसानों ने फौरन उसे देख फंदे से उतार लिया. उसकी हालत बिगड़ गई. उसे स्थानीय अस्पताल ले जाया गया. जहां हालत नाजुक बताकर डॉक्टरों ने झांसी मेडिकल कॉलेज के लिए रिफर कर दिया. किसान के परिजनों ने बताया कि रामगोपाल अपनी 10 बीघा खेती के साथ 20 बीघा खेती बलकट पर भी लिए था. ओलावृष्टि से पूरी फसल बर्बाद हो गई. इससे वह टूट गया और आत्मघाती कदम उठा लिया.

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से जुड़ी हर खबर के लिए यहां क्लिक करें

ललितपुर में ओलावृष्टि से बच्चे की मौत

ओलावृष्टि से ललितपुर में फसलों को भारी तबाही हुई है. यहां एक किसान का घर ही बारिश और ओलों की मार से गिर गया. इसमें उसके एक 7 साल के बच्चे की मौत हो गई. चार सदस्य घायल हो गए. मवेशियों की भी मौत होने की जानकारी है. वहीं ललितपुर कई ग्रामीण इलाकों में रबी की फसल तबाह हो गई.

Hail rain in Bundelkhand, Rabi crop destroyed in Bundalkhand, Bundelkhand natural disaster, Bundelkhand farmer story, farmer suicide, Bundelkhand farmer suicide, heavy rain hailstorm destroyed crops, Mahoba farmer suicide, Lalitpur crop loss, Mahoba crop loss, Jhansi crop loss, Banda crop loss, jhansi news, jhansi latest news, jhansi rural news, up relief commissioner, up cm, up news, up latest news, uttar pradesh kisan, up assembly election, up kisan congress,बुंदेलखंड में ओलावृष्टि, बुंदलखंड में रबी की फसल नष्ट, बुंदेलखंड प्राकृतिक आपदा, बुुंदेलखंड किसान स्टोरी, किसान आत्महत्या, बुंदेलखंड किसान आत्महत्या, भारी बारिश ओलावृष्टि से फसल नष्ट, महोबा किसान खुदकुशी,

अतिवृष्टि व ओलावृष्टि ने रबी की फसल को बड़ा नुकसान पहुंचाया है.

झांसी जिले में भी भारी नुकसान

बारिश के साथ ओले गिरने से झांसी के कई गांव में भारी नुकसान पहुंचा है. झांसी के मऊरानीपुर और गरौठा क्षेत्र के ग्रामों में जमकर तबाही हुई है. इसके खिलाफ किसान कांग्रेस ने कई जगह प्रदर्शन किया. किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष शिवनारायण परिहार ने कहा कि ओला गिरने से किसानों की रबी की फसल पूरी तरह से नष्ट हो गई है. उसके सामने एक बार फिर आर्थिक तंगी के हालात हैं.

आपके शहर से (झांसी)

झांसी
झांसी

Tags: Bundelkhand natural disaster, Hail rain in Bundelkhand, Jhansi news, UP Election 2022, UP news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर