हमीरपुर: BJP नेता के घर पुलिस ने मारा छापा, कारबाइन बरामद

इस मामले में दो जज भी निलंबित हो चुके है. वहीं एक आरोपी रुक्कू को आजीवन कारावास की सजा भी हुई है, फिलहाल अभी मुकदमा हाईकोर्ट के ट्रायल पर है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: August 31, 2018, 10:42 AM IST
हमीरपुर: BJP नेता के घर पुलिस ने मारा छापा, कारबाइन बरामद
बीजेपी नेता राजीव शुक्ला
News18 Uttar Pradesh
Updated: August 31, 2018, 10:42 AM IST
हमीरपुर जिले में एसटीएफ और स्थानीय पुलिस ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता राजीव शुक्ला के घर छापा मारा है. पुलिस ने भाजपा नेता के ड्राइवर अजय श्रीवास्तव उर्फ हड्डी को अवैध तमंचा रखने के आरोप में गिरफ्तारी किया है. एसटीएफ ने राजीव शुक्ला के घर से एक कारबाइन और दोनाली बंदूक जब्त किया है. वही विधायक को मारने की साजिश पर भी एसटीएफ ने लखनऊ में जाहिर किया है. इस कार्रवाई में जहां पुलिस और एसटीएफ वाहवाही लूट रही है. वही राजीव शुक्ला ने एसटीएफ और पुलिस को सवालों के घेरे में खड़ा कर दिया है.


दरअसल बीजेपी नेता राजीव शुक्ला की गिनती शहर के बड़े नामी लोगों में होती है. बता दें कि बीजेपी नेता समेत ये लोग तीन भाई थे. राकेश शुक्ला और राजेश शुक्ला किसी समय में इनका इलाके में काफी दबदबा हुआ करता था.  26 जनवरी 1997 में दिनदहाड़े राजीव शुक्ला के दोनों भाई राकेश शुक्ला और राजेश शुक्ला सहित 5 परिजनों की ताबड़तोड़ गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गई थी.





बीजेपी नेता का घर


Loading...
जिसमें मौजूदा बीजेपी विधायक सहित कई लोगों पर हत्या का आरोप है. इस मामले में दो जज भी निलंबित हो चुके है. वहीं एक आरोपी रुक्कू को आजीवन कारावास की सजा भी हुई है, फिलहाल अभी मुकदमा हाईकोर्ट के ट्रायल पर है. छापेमारी को लेकर बीजेपी नेता राजीव शुक्ला ने एसटीएफ और पुलिस की कार्रवाई पर सवाल खड़े कर दिए है. उनके मुताबिक उन्हें राजनीतिज्ञ षड्यंत्र रचकर फंसाने की साजिश रची गई है.


पुलिस ने जो घर से कारबाइन व एक दोनाली बंदूक दिखाई है वह लाइसेंसी है जिसका नवीनीकरण नहीं हुआ है. फीस जमा है तभी घर पर रहती है. वहीं इस प्रकरण पर यह भी आरोप लगाते हुए शुक्ला ने कहा कि हमीरपुर जेल में बंद विकास सिंह भी प्रतापगढ़ में एक बीजेपी नेता के आंख में खटकता है जिसे भी निपटाने की साजिश रची गई है. तलाशी के दौरान मुहल्ले में अफरा-तफरी का माहौल रहा.


(रिपोर्ट: उमाशंकर मिश्रा)


यह भी पढ़ें:






Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर