तालाब में आया विशालकाय मगरमच्छ, ग्रामीणों में मचा हड़कंप, देखें VIDEO

जालौन में मगरमच्छ दिखने से हड़कंप मच गया (Photo: News 18)
जालौन में मगरमच्छ दिखने से हड़कंप मच गया (Photo: News 18)

जालौन (Jalaun): वन विभाग की टीम ने काफी मशक्कत के बाद मगरमच्छ (Crocodile) को रेस्क्यू किया और बेतवा नदी में छोड़ दिया. मगरमच्छ की लंबाई करीब 12 फीट की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 7, 2020, 2:03 PM IST
  • Share this:
जालौन. उत्तर प्रदेश के जालौन (Jalaun) में ऐट थाना क्षेत्र के इगुई कला में तालाब में विशालकाय मगरमच्छ (Crocodile) मिलने से ग्रामीणों में हड़कंप मच गया. ग्रामीणों की सूचना पर वन विभाग (Forest Department) टीम मौके पर पहुंची. यहां टीम ने काफी मशक्कत के बाद मगरमच्छ को रेस्क्यू किया और बेतवा नदी में छोड़ दिया. मगरमच्छ की लंबाई करीब 12 फीट की है.

सुबह के वक्त तालाब से निकलकर भारी भरकम मगरमच्छ गांव में घुसने से हड़कंप मच गया. गांव में खेल रहे बच्चों को परिजनों ने मकान के अंदर बंद करके वन विभाग को सूचना दी. ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने ग्रामीणों के साथ मिलकर कड़ी मशक्कत के बाद रस्सियों के सहारे पकड़कर बेतवा नदी में ले जाकर मगरमच्छ को छोड़ा.

इस दौरान ग्रामीणों ने रेस्क्यू का वीडियो बनाया और सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया. मौके पर मगरमच्छ को देखने के लिए भारी संख्या में भीड़ इकट्ठा हो गई. ग्रामीणों ने कहा कि गनीमत रही कि मगरमच्छ ने किसी पर हमला नहीं किया.




4 घंटे का चला रेस्क्यू ऑपरेशन

एट थाना क्षेत्र के ग्राम ईगुई कला में गांव के बाहर बने तालाब से निकलकर भारी भरकम मगरमच्छ गांव में घुस गया मगरमच्छ को देखकर गांव में हड़कंप मच गया. वही गांव के बाहर खेल रहे बच्चों को परिजनों ने पकड़ कर अपने अपने मकानों में बंद कर के दरवाजे लगा लिए. वही ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची वन विभाग की टीम ने करीब 12 फुट लंबे मगरमच्छ को 4 घंटे की कड़ी मशक्कत करने के बाद कब्जे में किया. इसके बाद उसे लेकर वाहन से बेतवा नदी सला घाट मे छोड़ा.

वन दारोगा महेंद्र सिंह यादव ने बताया कि गांव के बाहर निकली बेतवा नदी की हमीरपुर शाखा की नहर से अक्सर मगरमच्छ निकलकर गांव में प्रवेश कर जाते हैं. ग्रामीणों की सतर्कता के चलते तत्काल सूचना मिलते ही मगरमच्छ को पकड़ लिया गया है, जिसकी वजहें कोई बड़ी घटना नहीं घट सकी. मगरमच्छ पकड़ने वाली टीम में पुष्पेंद्र सिंह, वीर सिंह बहादुर सिंह यादव, राम भगवान मुक्ता यादव सहित सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज