Home /News /uttar-pradesh /

Jhansi news:-जानिए नाइट कर्फ्यू को लेकर झांसी के लोगों की राय

Jhansi news:-जानिए नाइट कर्फ्यू को लेकर झांसी के लोगों की राय

नाइट

नाइट कर्फ्यू में सड़कों पर पसरा सन्नाटा

कोरोना के कहर को पूरा देश झेल चुका है अब फिर से इसके आने की आशंका से लोगों में खौफ का माहौल है.ऐसे में ओमिक्रोन नामक नए वेरिएंट से बचाव की तैयारी लगातार केंद्र और प्रदेश सरकार कर रही हैं.योगी सरकार ने भी बीते 25 दिसंबर से नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है.यह कर्फ़्यू रात 11 बजे से लेकर 5 बजे तक लगा रहेगा.इस कर्फ्यू पर लोगों की प्रतिक्रिया आने लगी है.

अधिक पढ़ें ...

    कोरोना के कहर को पूरा देश झेल चुका है अब फिर से इसके आने की आशंका से लोगों में खौफ का माहौल है.ऐसे में ओमिक्रोन नामक नए वेरिएंट से बचाव की तैयारी लगातार केंद्र और प्रदेश सरकार कर रही हैं.उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने भी बीते 25 दिसंबर से नाइट कर्फ्यू का ऐलान कर दिया है.यह कर्फ़्यू रात 11 बजे से लेकर 5 बजे तक लगा रहेगा.इस कर्फ्यू के लगने के साथ ही लोगों की इस पर प्रतिक्रिया आने लगी है.

    ठंड में ऐसे भी कोई नहीं निकलता
    कई लोगों ने इस कर्फ्यू का समर्थन किया है तो वहीं अधिकतर लोगों की राय इस पर थोड़ी भिन्न है.एक बुजुर्ग ने कहा की दिसंबर के महीने में जब इतनी कड़ाके की ठंड पड़ रही है तो लोग ऐसे भी अपने घरों से बाहर नहीं निकलते.इस कर्फ्यू का क्या औचित्य है यह समझ के बाहर है.एक अन्य व्यक्ति ने कहा की रात 11 बजे से लगने वाले इस कर्फ्यू को अगर थोड़ा पहले से लगाया जाए तो शायद इसका ज्यादा असर होगा.

    दिन में महोत्सव तो रात में कर्फ्यू क्यों
    कुछ लोगों ने इस कर्फ्यू पर सवाल उठाते हुए कहा कि जब दिन में रैलियां हो सकती हैं, मैराथन हो सकती हैं, झांसी महोत्सव जैसे आयोजन हो सकते हैं तो फिर इस नाइट कर्फ्यू का क्या फायदा. अगर सरकार इतनी ही चिंतित है तो बाजारों में लगने वाली भीड़ पर लगाम लगाए. गौरतलब है कि झांसी में भी कोरोना एक बार फिर से पैर पसारने लगा है.ऐसे में इस नाइट कर्फ्यू से कितना फायदा होता है यह देखने वाली बात होगी.

    (रिपोर्ट – शाश्वत सिंह)

    Tags: Jhansi news, Night curfew

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर