Home /News /uttar-pradesh /

jhansi permanent salute to hockey magician dhyan chand major dhyan chand museum is going to be built under smart city

झांसी:-हॉकी के जादूगर ध्यानचन्द को स्थायी सलामी,स्मार्ट सिटी के अन्तर्गत बनने जा रहा है 'मेजर ध्यानचन्द संग्रहालय'

X

पूरी दुनिया में हॉकी के जादूगर के नाम से विख्यात मेजर ध्यानचन्द झांसी की शान हैं,लेकिन इस युग पुरुष के बारे में झांसी के ही लोग भी बहुत कम जानते हैं.झांसी के गौरव मेजर ध्यानचन्द के बारे में लोगों को अवगत कराने के लिए झांसी में स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत मेजर ध्यानच?

अधिक पढ़ें ...

    (रिपोर्ट – शाश्वत सिंह)

    पूरी दुनिया में हॉकी के जादूगर के नाम से विख्यात मेजर ध्यानचन्द झांसी की शान हैं,लेकिन इस युग पुरुष के बारे में झांसी के ही लोग भी बहुत कम जानते हैं.झांसी के गौरव मेजर ध्यानचन्द जिन्हें झांसीवासी दद्दा ध्यानचंद के नाम से भी बुलाते हैं उनके बारे में लोगों को अवगत कराने के लिए अब झांसी में स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत मेजर ध्यानचन्द संग्रहालय बनाया जाएगा.

    ध्यानचंद के पुत्र के देखरेख में तैयार होगा संग्रहालय

    इस संग्रहालय के निर्माण और यहां रखी जाने वाली चीजें पूरी तरह मौलिक होंगी.उनका मेजर ध्यानचंद से सीधे संबंध रहा होगा. इस बात को ध्यान में रखते हुए इस प्रोजेक्ट के निर्माण के समय उनके पुत्र विख्यात ओलम्पियन अशोक ध्यानचन्द की सलाह ली जाएगी और उन्हें पूरे प्रोजेक्ट में एक विशेषज्ञ के रूप में शामिल किया जाएगा.इसके साथ ही इस संग्रहालय के प्रबन्धन के लिए जो भी व्यवस्था बनेगी, उसमें भी उनको शामिल किया जाएगा.

    जीवन के हर पहलू के बारे में मिलेगी जानकारी

    इस संग्रहालय में कुल 26 जोन होंगे.इन जोन में थीम्स स्कल्पचर, उनके जन्म और परिवार के बारे में,उनके बचपन और शिक्षा, सेना में शामिल होने, सभी ऐतिहासिक हॉकी मैच, उनके ओलंपिक मैच, भारतीय खेलों में मेजर ध्यानचंद का योगदान, कोच के रूप में मेजर ध्यानचंद, फेम की दीवार, फोटो गैलरी- राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय नेताओं के साथ ध्यानचंद, ध्यानचंद के बारे में उनके समकालीनों द्वारा बोली जाने वाली संग्रहीत जानकारी / वीडियो , ध्यानचंद के अंतिम दिन, ध्यानचंद के कुछ बेहतरीन गोल आर्काइव्य विजुअल डिस्प्ले होंगे.

    खेल में रुचि रखने वालों को यहां मिलेगी जानकारी

    इसके साथ ही आने वाली पीढ़ियों के लिए खेलों में करियर विकल्प, खेल प्रशिक्षण संस्थान, भारत में खेलों के लिए सरकारी सहायता और पहल, हॉकी स्टेडियम का टेबल टॉप स्केल मॉडल, संग्रहीत समाचार पत्र और डाक टिकट प्रदर्शन, बच्चों के लिए स्पोर्ट्स कॉर्नर, विवज कॉर्नर, फीडबैक, स्मारिका काउंटर, कलाकृतियों का प्रदर्शन भी यहां किया जायेगा.

    ऑडियो विजुअलमाध्यम पर रहेगा जोर

    मंडलायुक्त डॉ अजय शंकर पांडे ने बताया की संग्रहालय में प्रदर्शित अधिकतर वस्तुओं के बारे में ऑडियो विजुअल के माध्यम से बताया जायेगा. इसके साथ ही यह भी कोशिश की जाएगी की कुछ वस्तुएं 3डी में भी उपलब्ध कराई जाएं. मंडलायुक्त ने बताया कि इस संग्रहालय का निर्माण रानी लक्ष्मी बाई पार्क में किया जाएगा. इसकी कुल लागत 19 करोड़ 70 लाख रुपए आएगी और यह कार्य नवंबर माह 2022 तक पूर्ण हो जाएगा.

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर