1000 से ज्यादा घटनाओं को इस गैंग ने दिया अंजाम, झांसी पुलिस के हत्थे चढ़े तीन बदमाश

1000 से ज्यादा घटनाओं को इस गैंग ने दिया अंजाम
1000 से ज्यादा घटनाओं को इस गैंग ने दिया अंजाम

एसएसपी झांसी (SSP Jhansi) दिनेश कुमार पी ने खुलासा करते हुए बताया कि चोरों के इस बड़े गिरोह द्वारा चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया था.

  • Share this:
झांसी. झांसी (Jhansi) की फतेहपुर पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जिसने उत्तर प्रदेश, राजस्थान और मध्य प्रदेश में एक हजार से भी अधिक संगीन वारदातों को अंजाम देकर तहलका मचा दिया है. इस गिरोह के पास से पुलिस ने भारी बरामदगी भी की, तीनों राज्यों की पुलिस इस गैंग को पकड़ने के लिए सरगर्मी से तलाश में जुट थी. इनके कब्जे से पुलिस ने लाखों रुपये की कीमत के आभूषण, कार ,बाइक व तमंचे बरामद किए हैं. वहीं, फतेहपुर थाना क्षेत्र में इस खुलासे को अब तक की सबसे बड़ी रिकवरी बताया जा रहा है.

एसएसपी झांसी दिनेश कुमार पी ने खुलासा करते हुए बताया कि चोरों के इस बड़े गिरोह द्वारा आसपास के आधा दर्जन से अधिक जनपदों में चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया था. इस अंतरराज्यीय चोर गिरोह में करीब डेढ़ दर्जन लोग शामिल हैं और अब तक करीब 122 घटनाओं को अंजाम दिया है, पुलिस ने गिरोह के चार सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया जबकि गिरोह का सरगना समेत 3 लोग पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं.

ये भी पढे़ं- उड़ीसा से बेटी को किया फोन, कहा- पुलिस वाले मझे मार देंगे और फिर...



एसएसपी ने बताया कि 4 सितंबर को रेवन निवासी रमेश चंद्र यादव की तहरीर पर अज्ञात चोरों के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कराया गया था. मामले के खुलासे को लेकर टोड़ी फतेहपुर थाना पुलिस और एसओजी टीम अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए लगातार गश्त कर रही थी. तभी मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई कि ग्राम बगरौनी से पहले नहर पुलिया के पास अभियुक्त श्रीकांत इसका पिता उदय भान और मां श्याम देवी और आलोक राजपूत खड़े हुए हैं. शीघ्र ही पुलिस टीम ने मौके पर पहुंचकर घेराबंदी की और चारों अभियुक्तों को हिरासत में ले लिया. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्त अंतर्राज्यीय गिरोह के सदस्य हैं.
सरगना प्रदीप समेत 3 साथी फरार

सरगना प्रदीप समेत महोबा जनपद के 3 साथी अभी भी फरार हैं. जिनकी धरपकड़ के लिए पुलिस लगातार प्रयास कर रही है. अपराधी श्रीकांत, उदय भान और आलोक राजपूत का लंबा आपराधिक इतिहास है. सभी पर करीब आधा दर्जन से अधिक मुकदमे दर्ज हैं. जबकि उदयभान पर कुल 17 मुकदमे दर्ज हैं.

लाखों के जेवरात बरामद

इन चोरों ने उप्र, मप्र व राजस्थान के करीब 122 स्थानों पर चोरी की घटनाओं को अंजाम दिया है. अभियुक्तों के पास से लगभग 90.51 ग्राम सोने के जेवरात कीमत करीब 4.7 लाख, 710 ग्राम चांदी के जेवरात कीमत करीब 42 हजार, बिना नंबर की एक टाटा टियागो कार, एक अपाचे मोटरसाइकिल, एक सिलाई मशीन, 315 बोर के 2 अवैध तमंचे व 7 जिंदा कारतूस बरामद किए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज